पाकिस्तान के स्पिन गेंदबाज़ यासिर शाह ने चार्ली टर्नर के 13 मैच में 81 विकेट लेने के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है. इंग्लैंड के विरुद्ध लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान यासिर ने टर्नर के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 13 मैचो में 82 विकेट हासिल किये.

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ टर्नर ने अपने टेस्ट करियर के दौरान 17 मैचो में 101 विकेट हासिल किये.

लॉर्ड्स टेस्ट के तीसरे दिन यासिर ने स्टीवन फिन की विकेट लेकर यह बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम किया. जब यासिर, फिन की विकेट का जश्न मना रहे थे, तो दूसरी ओर महान स्पिनर शेन वार्न कमेंट्री बॉक्स में बैठे थे.

इंग्लैंड बनाम पाकिस्तान सीरीज से पहले यासिर पर एक वर्ष का प्रतिबन्ध लगा हुआ था.

लेकिन ऑस्ट्रेलिया के महान स्पिनर वार्न को यासिर की प्रतिभा पर कोई शक नहीं है. उनका कहना है कि यासिर एक बेहतरीन स्पिनर है.

वर्ष 2007 में महान लेग स्पिनर शेन वार्न के टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद लेग स्पिन गेंदबाजी की खूबसूरती खत्म हो गयी थी, यासिर के आने से वह खूबसूरती वापस आने लगी हैं.

पहले टेस्ट में इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने मोहम्मद आमिर को काफी गंभीरता से खेला, लेकिन यासिर ने इंग्लैंड बल्लेबाजी क्रम की कमर तोड़ दी. युवा आमिर ने बेहद शानदार गेंदबाजी किया लेकिन पाकिस्तान फ़ील्डर्स ने उनकी गेंदबाजी पर काफी कैच छोड़े.

यासिर शाह ने इंग्लैंड की पहली पारी में 72 रन देकर 6 विकेट हासिल किये.

यासिर ने जो रूट, जेम्स विन्से, गैरी बैलेंस, जॉनी बैरेस्टा, मोइन अली और स्टीवन फिन की विकेट झटकी.

पाकिस्तान के दिग्गज गेंदबाज़ यासिर ने इंग्लैंड के मध्यक्रम की कमर तोड़ते हुए जो रूट, जेम्स विन्से, गैरी बैलेंस की विकेट ली जबकि निचले क्रम के बल्लेबाजों में बैरेस्टा, मोइन अली और स्टीवन फिन की विकेट भी शाह ने हासिल किया.

पाकिस्तान ने पहली पारी में 339 रन बनाये थे जिसके आधार पर पाकिस्तान को 67 रनों की बढ़त मिली थी.

पाकिस्तान के पहली पारी में कप्तान मिस्बाह ने शानदार शतक जड़ा, जबकि असद शफीक ने अर्धशतक लगाया.

लॉर्ड्स टेस्ट में स्पॉट फिक्सिंग कांड के बाद मोहम्मद आमिर ने टेस्ट क्रिकेट में वापसी की हैं.

वर्तमान टेस्ट रैंकिंग में पाकिस्तान टीम तीसरे पायदान पर हैं, और जब दोनों टीम का आखिर बार सामना हुए था तब गल्फ में इंग्लैंड को हार का सामना करना पड़ा था. लेकिन वर्ष 2010 के  इंग्लैंड दौरे के पहले टेस्ट के बाद पाकिस्तान इंग्लैंड में कोई टेस्ट नहीं जीत पाया हैं.

चार्ली टर्नर ने वर्ष 1887 से 1895 के दौरान 13 टेस्ट मैचो में 81 विकेट हासिल किये थे, जिस रिकॉर्ड को यासिर शाह ने शनिवार को अपने नाम कर लिया हैं. टर्नर ऑस्ट्रेलिया के लिए केवल 17 टेस्ट मैच ही खेल पायें.

वर्तमान टेस्ट रैंकिंग में यासिर शाह गेंदबाजो की सूचि में चौथे पायदान पर हैं, यासिर पर जब एक वर्ष का प्रतिबन्ध लगा था उस दौरान शाह पहले पायदान पर थे, हालाँकि एक वर्ष क्रिकेट से दूर रहने के बाद यासिर की रैंकिंग में ज्यादा असर नहीं पड़ा हैं.

  • SHARE
    I am Gautam Kumar a Cricket Adict, Always Willing to Write Cricket Article. Virat and Rohit are My Favourite Indian Player.

    Related Articles

    ग्रीम स्मिथ ने कहा मार्करम के जगह अगर इन्हें मिली होती कप्तानी तो शायद...

    भारत और साउत अफ्रीका के बीच तीन टी20 मैचों की सीरीज का दूसरा अर्न्तराष्ट्रीय मुकाबला कल,यानि 21 फरवरी को सेचुंरियन के क्रिकेट स्टेडियम में...

    आईपीएल के बाद स्टार इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने बीसीसीआई के साथ इसको लेकर किया...

    इंडियन प्रीमियर लीग की शुरूआत होने को है। इस हाई वॉल्टेज टी-20 क्रिकेट लीग के शुरू होने को लेकर क्रिकेट फैंस अब तो बेसब्री...

    पाॅल एडम्स ने बताया वो कारण जिसकी वजह से हर एक वनडे और टी-20...

    भारतीय टीम के स्पिनरों की पूरे क्रिकेट जगत में तूती बोलती है। मौजूदा समय में साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव और...

    आर्थिक संकट झेल रही इस टीम को किसी देश की मेजबानी करने के लिए...

    जिम्बाब्वे और अफगानिस्तान के बीच 5 वनडे मैचों की सीरीज का आखिरी मुकाबला जो कि अफगानिस्तान ने जिम्बाब्वे को 146 रनों के बड़े अंतर...
    International cricketers who make poor record of most runout

    ये है क्रिकेट इतिहास के सबसे सुस्त खिलाड़ी, जो क्रिकेट मैदान पर हुए सबसे...

    क्रिकेट एक ऐसा खेल है जिसको हर कोई देखना पसंद करता है और इस खेल में शानदार बल्लेब्जी के साथ ही विकेट के बीच...