तेहरान, 23 नवंबर; फुटबाल क्लब ईरानियन पर्सेपोलिस के मुख्य कोच ब्रांको इवानकोविक ने कहा कि वह अपनी जानकारी का इस्तेमाल ईरान के फुटबाल को आगे ले जाने के लिए करेंगे। तेहरान टाइम्स ने बुधवार को इवानकोविक के हवाले से लिखा है, “मैं ईरान आपकी खेलने की शैली बदलने और खेल में सुधार करने आया हूं। ईरान की टीमें इंग्लिश फुटबाल शैली के साथ खेलती हैं जो स्वाभविक है क्योंकि अंग्रेज ही इस खेल को लेकर ईरान आए थे।”

इवानकोविक ने कहा, “मैं आपका पारंपरिक खेल बदलने आया हूं और आधुनिक खेल सिखाना चाहता हूं। इसलिए मैं यहां हूं।”

उन्होंने कहा, “इस समय, मैं पर्सेपोलिस का कोच हूं और मैं अपनी टीम द्वारा पिछले सीजन में हासिल किए गए परिणाम से पूरी तरह से संतुष्ट हूं। मैं ईरान की सबसे प्रसिद्ध टीम के साथ खुश हूं।”

क्रोएशिया के रहने वाले इवानकोविक अपने देश की राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच पद की दौड़ में थे, लेकिन वह इस रेस में ज्लाटको डालिक से हार गए।

  • SHARE

    आईएएनएस एक न्यूज़ मिडिया कम्पनी है, जों दुसरे न्यूज़ मिडिया कों सभी प्रकार की खबरे प्रदान करती है. आईएएनएस खेल, राजनीती और बालीवुड के अलावा अन्य सभी प्रकार की खबरे अपने मिडिया पार्टनर कों प्रदान करता है.

    Related Articles

    FACT: WWE दिग्गज रेस्लरो का कर रही है अपमान, जानबूझकर हरा रही है हर...

    WWE हमेशा ही अपने दिग्गज रेस्लरो को सम्मान देने के लिए जानी जाती है लेकिन मौजूदा समय में WWE कई ऐसे गलत काम कर...

    चार दिवसीय टेस्ट मैच में दिखेगा कई अनोखे नियम, 26 दिसंबर को होगा साउथ...

    जिम्बाब्वे और साउथ अफ्रीका के बीच खेले जाने वाले चार दिवसीय टेस्ट मैच में क्रिकेट प्रशंसकों को नए नियम देखने को मिल सकते हैं। अभी...

    बड़ी खबर : चयनकर्ताओं ने 20 दिसंबर से शुरू होने वाली भारत-श्रीलंका टी20 सीरीज...

    भारतीय टीम और श्रीलंकाई टीम के बीच वनडे सीरीज के बाद 20 दिसंबर से तीन मैचों की टी20 सीरीज खेली जायेगी. जिसके लिए भारतीय...

    आज भी लोगो के सिर चढ़कर बोल रहा है सहवाग का जादू मैदान पर...

    भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग ने अपने करियर के दौरान दर्शकों का जमकर मनोरंजन किया है। वीरेन्द्र सहवाग की बल्लेबाजी...

    वीडियो : टी10 क्रिकेट में सहवाग की कप्तानी वाली भारतीय टीम के अफरीदी की...

    क्रिकेट का खेल साल 1877 में शुरू हुआ था, लेकिन क्रिकेट के पहले 94 सालों तक क्रिकेट में सिर्फ दो परियों में खेला जाने...