मैनचेस्टर यूनाइटेड बनाम साउथमप्टन मैच की तीन मुख्य बाते - Sportzwiki
फुटबॉल

मैनचेस्टर यूनाइटेड बनाम साउथमप्टन मैच की तीन मुख्य बाते

  • रविवार रात ओल्ड त्राफ्फोर्ड में मैनचेस्टर यूनाइटेड को बदकिस्मती से साउथप्मटन के विरुध 1-0 से हार का सामना करना पड़ा । इस दुर्भाग्यपूर्ण हार की वजह से पिछले 11 मैच में लगातार मिली जीत का अंत हो गया। सेंट मैरी में मिली हार का रोनाल्ड कोएमन की टीम ने यह उचित बदला लिया है ।

    यूनाइटेड को तेज गति के साथ खेलने की जरुरत है

    जब यूनाइटेड की टीम में पर्सी, रूनी, दी मारिया और माता मैदान पर होते है तो मैदान पर एक उम्मीद भरा समीकरण तयार हो जाता है हालाकी साउथमप्टन भी अपने हरेक मैच में जीतने की पूरी क्षमता के साथ मैदान पर जाता है। यूनाइटेड के 11 खिलाड़ियो देख कार ऐसा लगा जैसे यह अकेले अकेले ही मैदान पर उतर गए हो। हालाकि पुरे मैच के दौरान साउथमप्टन को सिंगल शोर्ट पर गोल दागने में कामयाबी नहीं मिली पर उनका खेल उस रात मैदान पर छाया रहा ।
    यूनाइटेड के ख़राब प्रदर्शन का कारण था साउथमप्टन की तुलना में यूनाइटेड के खिलाड़िओं के बीच तालमेल की कमी है । ऐसा लग रहा था जैसे साउथमप्टन मैदान पर बाल के साथ चल रहे है और वो साउथमप्टन के डीफेंड़ेर्स के सामने ही खेल रहे है । यूनाइटेड टीम के खिलाड़िओं की रफ़्तार डी मारिया और वैन पर्सी जैसे खिलाड़ियो के मुकाबले बहुत कम थी ।

    साउथमप्टन में पीछे के तीन खिलाड़ी असमर्थ है

    पुरे सत्र में साउथप्मटन को अपने पिछले तीन खिलाड़ियो के साथ काफी जद्दोजहद करनी पड़ी है. हालाँकि यह पूरा संकेत देता है की वैन गाल अपना प्रदर्शन दिखाने में असमर्थ हो जाते है ओर यही कारण है के दो बार यूनाइटेड ने पिछले तीन खिलाड़िओं पर खेल कर जीत हासिल करने में कामयाब हो पाया ।
    साउथमप्टन के विरुध यह खेला पूरी तरह से प्रमाणित करता है के यूनाइटेड का यह समीकरण असमर्थ रहा है ।
    3-5-2 के समीकरण के साथ यूनाइटेड को कभी भी कुछ खास फायदा नही हुआ है सिवाए इसके की यूनाइटेड की टीम के पिछला हिस्से में बाल रोकने के लिए मजबूत डीफेंड़र नही होते। हालाँकि की विंगबैक का फॉरवर्ड में अच्छा प्रदर्शन रहा है. यूनाइटेड में विंगरस के न होने के वजह से मैदान पर यूनाइटेड का खेल धीमा था और 3-5-2 के समीकरण कि वजह से वन गाल ने भी घुठने टेक दिया ।

    वन गाल के पास अब ज्यादा विकल्प है

    पहले आधे सत्र में लुइस वन गाल को घायलों की वजह से काफी तकलीफ़देह समय गुजरना पड़ा था । उस समय उनके पास अंक से जादा घायल थे, पर अब परिस्थिति बदल चुकी है ओर घायल खिलाड़ी मैदान में जलवा दिखाने के लिए लौट आए है ।
    अब केवल आश्ले यंग ही घायल बचे है, लगभग सभी खलाड़ी डच प्रबंधक से चयन के लिए मौजूद है, इस वजह से भी उनके सामने एक चुनौती सी खड़ी हो गई है के वो किस तरीके से इन सितारों की एक बेहतरीन टीम तयार करेंगे ।

     

    sw
    Click to comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Top