हरियाणा की महिला बाक्सर खिलाड़ी रिशु मित्तल को लेकर पिछले दिनों मीडिया में जोरदार आवाज उठी थी, उसके बाद अब जाकर हरियाणा सरकार की नींद इस महिला खिलाड़ी को लेकर खुली है, हरियाणा के खेल मंत्री ने अनिल विज ने कहा, हम रिशु को 1 लाख रूपये प्रदान कर रहे है, हमे इसके बारे में कोई जानकारी नहीं थी, गलती हो गयी, हमे मीडिया से ही इस बात का पता चला है.

विज ने यह भी कहा, कि वे हरियाणा के किसी भी खिलाड़ी को किसी भी दशा में बदहाली की जिन्दगी नहीं जीने देंगे, वैसे भी रिशु को अब लोगो से भी काफी मदद मिल रही है.

जैसा की रिशु हरियाणा के कैथल जिले की रहने वाली है, और वर्तमान में वह 10 वी में पढ़ती है, लेकिन घर किम हालत अच्छी न होने की वजह से यह 16 वर्षीय स्टेट चैम्पियन मुक्केबाज अपने मकान मालिक के घर झाड़ू पोछा करके जिन्दगी गुजार रही है.

यह स्टेट चैम्पियन बाक्सर सुबह 6 बजे जग कर पहले अभ्यास के लिये स्टेडियम जाती है, फिर घर आकर खाना बनाती और फिर पढने जाती है, वापस आकर मकान मालिक के घर काम करके परिवार का गुजारा करती है.

अब JSPL फाउंडेशन ने भी अगले 5 सालो तक रिशु की मदद करने की बात कही है.

  • SHARE

    sportzwiki हिंदी सभी प्रकार के स्पोर्ट्स की सभी खबरे सबसे पहले पाठकों तक पहुँचाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी कोशिस यही रहती है, कि हम लोगो को सभी प्रकार की खबरे सबसे पहले प्रदान करे.

    Related Articles

    पाकिस्तान के बाद अब बांग्लादेश में फैला सट्टेबाजी का जिन्न, 77 लोग हुए गिरफ्तार

    इन दिनों बांग्लादेश का टी20 क्रिकेट लीग बांग्लादेश प्रीमियर लीग खेला जा रहा है. यह बांग्लादेश प्रीमियर लीग का पांचवा सीजन है और बांग्लादेश...

    डिकवेला का समर्थन करना रसेल अर्नोल्ड को पड़ा महंगा, भारत ने ऐसे बनाया मजाक

    भारत और श्रीलंका के बीच पहला टेस्ट मैच कोलकत्ता में खेला गया था. इस रोमांचक टेस्ट ड्रा होने के बाद श्रीलंका के दिग्गज बल्लेबाज़...

    आई-लीग का 11वां संस्करण 25 नवंबर से, 3 नई टीमें शामिल

    नई दिल्ली, 21 नवंबर; भारत की शीर्ष स्तरीय फुटबाल लीग हीरो आई-लीग के 11वें संस्करण की शुरुआत 25 नवंबर से हो रही है। इस साल...

    WWE NEWS: सरवाइवर सीरीज में ब्रोक लेसनर से हारने के बाद एजे स्टाइल्स ने...

    इस बार की सरवाइवर सीरीज में कई ड्रीम मैच देखने को मिले जिसमे एक था ब्रोक लेसनर और एजे स्टाइल्स के बीच. इस मैच...

    कापेकोइंस के ‘जीवित बचे’ खिलाड़ी फोलमान की नजर पैरालम्पिक पर

    रियो डी जनेरियो, 21 नवंबर; एक खिलाड़ी भले ही किसी भी स्थिति में हो, लेकिन खेल के प्रति उसका जुनून कभी कम नहीं होता। फिर...