रियो डी जनेरियो, 19 अगस्त (आईएएनएस)| विश्व की सबसे बड़ी खेल अदालत-कोर्ट फॉर अर्बिट्रेशन फॉर स्पोर्ट (सीएएस) ने गुरुवार को लम्बी सुनवाई के बाद भारतीय पहलवान नरसिंह यादव को डोपिंग मामले में क्लीन चिट दिए जाने के खिलाफ दायर विश्व डोपिंग निरोधी एजेंसी (वाडा) की अपील को स्वीकार कर लिया है।

वाडा ने अपनी अपील में नरसिंह को राष्ट्रीय डोपिंग निरोधी एजेंसी (नाडा) द्वारा क्लीन चिट दिए जाने को गलत करार दिया था और उन पर प्रतिबंधित दवाओं के सेवन को लेकर चार साल का प्रतिबंध लगाने की मांग की थी। अब जबकि सीएएस ने वाडा की अपील स्वीकार कर ली है, नरसिंह का भविष्य अंधकारमय नजर आ रहा है। वह अब रियो ओलम्पिक में हिस्सा नहीं ले पाएंगे।

यह भी पढ़े : बालीवुड के शहंशाह Amitabh Bachchan ने जों कहा है उस पर पूरा देश सोचने पर मजबूर हों जायेगा

रियो में भारतीय प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख राकेश गुप्ता ने सुनवाई के बाद आईएएनएस से कहा, “यह बेहद दुखद: और दुर्भाग्यपूर्ण है। हम सुनवाई के अंतिम चरण तक आशान्वित थे। हमें उम्मीद थी कि नरसिंह को क्लीन चिट मिल जाएगा लेकिन ऐसा हो नहीं सका। यह बेहद दुखदाई है क्योंकि नरसिंह में पदक जीतने की क्षमता है।”

सीएएस के एडहॉक डिविजन ने गुरुवार को यहां वाडा की अपील पर सुनवाई के लिए बैठक की और उन पर चार साल का प्रतिबंध लगाने का फैसला किया। नाडा ने बीते महीने नरसिंह को प्रतिबंधित दवाओं के सेवन के आरोपों से मुक्त किया था और इसके बाद अंतर्राष्ट्रीय कुश्ती महासंघ ने नरसिंह को ओलम्पिक में हिस्सा लेने की अनुमति प्रदान की थी।

नाडा ने कहा था कि नरसिंह अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी की साजिश का शिकार हुए हैं लेकिन सीएएस ने इसे नकार दिया और अपने बयान में कहा कि इस बात के कोई सबूत नहीं है कि नरसिंह ने जो किया है वह अनजाने में हुआ है और इन सबमें उनका कोई दोष नहीं है। ऐसे में उन पर तयशुदा चार साल का प्रतिबंध लगाया जाता है।

यह भी पढ़े : साक्षी के बाद सिन्धु का भी पदक पक्का, स्वर्ण की उम्मीदें जागी

उल्लेखनीय है कि 25 जून और पांच जुलाई को लिए गए सैंपलों के आधार पर नाडा ने नरसिंह को प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन का आरोपी करार दिया था लेकिन नरसिंह ने कहा था कि उन्हें फंसाया गया है।

इसके बाद नाडा ने एक लम्बी सुनवाई के बाद नरसिंह को आरोपमुक्त कर दिया था। वाडा ने इसी के खिलाफ सीएएस में अपील की थी, कि आखिरकार डोप में फंसे एक खिलाड़ी के इस तरह कैसे क्लीन चिट दी जा सकती है, जबकि उसके पास पाक-साफ होने का कोई सबूत नहीं है।

वाडा ने ऐसे समय में नरसिंह को लेकर दिए गए नाडा के फैसले को लेकर सीएएस जाने का फैसला किया, जब उनके मुकाबले में दो दिन शेष रह गए थे।

सीएएस ने अपने बयान में कहा, “इस मामले को देख रही सीएएस की पैनल ने सभी पक्षों और उनके प्रतिनिधियों की दलीलें सुनीं। सभी पक्षों को इस बात की सूचना दे दी गई कि नरसिंह के खिलाफ दायर अपील को स्वीकार कर लिया गया है और नरसिंह पर चार साल का प्रतिबंध लगाया गया है। प्रतिबंध गुरुवार से मान्य हो गया है।”

यह भी पढ़े : मोदी भी हुए साक्षी मलिक के कायल, देखें कैसे दी मुबारकबाद

सीएएस के इस बयान का मतलब है कि अब नरसिंह ओलम्पिक या किसी अन्य अंतर्राष्ट्रीय आयोजन में हिस्सा लेने के योग्य नहीं रह गए हैं। सीएएस ने साथ ही यह भी कहा कि 25 जून 2016 के बाद दर्ज नरसिंह के सभी प्रतियोगी परिणामों को रद्द किया जाता है।

नरसिंह को शुक्रवार को 74 किलोग्राम फ्रीस्टाइल मुकाबले में फ्रांस के जेलिमखान खादिजेव से भिड़ना था और इसके लिए गुरुवार को दोनो खिलाड़ियों का वजन भी किया गया था।

यह भी पढ़े : भारत के लिए इकलौता पदक जीतने वाली साक्षी के बारे में कुछ अनसुनी बातें

  • SHARE
    आईएएनएस एक न्यूज़ मिडिया कम्पनी है, जों दुसरे न्यूज़ मिडिया कों सभी प्रकार की खबरे प्रदान करती है. आईएएनएस खेल, राजनीती और बालीवुड के अलावा अन्य सभी प्रकार की खबरे अपने मिडिया पार्टनर कों प्रदान करता है.

    Related Articles

    ये है वो कारण जिसकी वजह से विराट कोहली ने सुरेश रैना से साउथ...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच जोहनसबर्ग में खेले गये पहले टी20 मैच में उस समय सभी हैरान रह गये जब भारतीय टीम के...

    STATS: साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले टी-20 मैच में ही हुई रिकॉर्ड की बारिश,...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच आज टी-20 सीरीज का पहला मैच खेला गया. जहाँ आज एक बार फिर से साउथ अफ्रीका को हार...

    जाने भुवनेश्वर कुमार द्वारा फेंकी जाने वाली नकल बॉल क्या होती है और सबसे...

    भारतीय टीम को अपनी शानदार गेंदबाजी चलते भुवनेश्वर कुमार ने जीत दिला दी है. भुवनेश्वर कुमार ने पहले टी20 मैच में आज रविवार को...

    भारतीय टीम में विराट कोहली की भरपाई करने को तैयार है यह 18 वर्षीय...

    भारतीय जूनियर क्रिकेट टीम में आजकर अगर किसी की सबसे ज्यादा चर्चा होती है तो वो हैं शुभमन गिल। पंजाब के शुभमन गिल ने...

    साउथ अफ्रीकन कप्तान जेपी डुमिनी ने सीधे तौर पर इन खिलाड़ियों को ठहराया पहले...

    भारत और साउथ अफ्रीका के बीच चल रही तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला टी20 मैच आज रविवार को जोहनसबर्ग के वांडर्स स्टेडियम...