रियों ओलम्पिक के सभी खेलों में से सबसे आश्चर्यचकित करने वाल पल आख़िरी दिन देखने को मिला जब मंगोलिया के रेसलर और उनके कोचिंग स्टाफ ने ब्रोंज मैडल मैच में हार के बाद विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया. इस विरोध ने वहाँ  मौजूद दर्शकों समेत रेफ़री और बाकी अधिकारीयों को भी अचम्भे में डाल दिया.

मंगोलिया के मंधाकर्नाम ने ओलम्पिक खेलों के आख़िरी दिन भारत के योगेश्वर दत्त को पहले ही राउंड में हरा कर, पुरे भारत की पदक की उमीदों पर पानी फेर दिया. मंधाकर्नाम ने योगेश्वर को राउंड ऑफ़ 32 में 0-3 से हरा कर बाहर कर दिया. लेकिन क्वार्टर फाइनल मुकाबले में वो रूस के सोस्लन रामानोव से हार गए (जो आगे जाकर इस स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीते). इस हार के कारण मंगोलिया के पहलवान को रेप्चेज की बदौलत ब्रोंज मैडल के लिए खेलने का मौका मिला जहाँ उन्होंने कनाडा के पहलवान को आसानी से हरा दिया और पदक के लिए उज्बेकिस्तान के इख्तियोर नवरुज़ोव के साथ मुकाबले में जगह बनाई.

यह भी पढ़े : क्लोजिंग सेरेमनी में भारत को इस ओलिम्पिक का पहला पदक दिलाने वाली साक्षी मलिक बनी भारत की ध्वजावाहक

कांस्य पदक मैच के आख़िरी क्षणों में मंगोलिया के पहलवान ने शानदार खेल दिखाते हुए उज्बेकिस्तान के पहलवान की बराबरी कर ली, और उसके बाद एक गलत चैलेंज के चलते 1 पॉइंट की बढ़त भी प्राप्त कर ली और तब केवल दस सैकेंड का खेल बचा था.

लाल कार्नर में मंगोलिया के पहलवान ने जीत सुनिश्चित सोच कर जश्न में कूदना शुरू कर दिया लेकिन नील कार्नर में उज्बेकिस्तान के पहलवान आख़िरी तीन सैकेंड में भी पॉइंट हासिल करने के लिए कोशिश करते रहे. जैसे ही मैच खत्म होने का हूटर बजा तो मंगोलिया के रेसलर और कोच सभी जीत का जश्न मनाने लगे.

यह भी पढ़े : पहले दौर से हारकर बाहर हुए भारत के स्वर्ण पदक के दावेदार

MANGOLIA WRESTLERलेकिन इसके बाद जो हुआ उससे वहाँ  मौजदू सभी दर्शक नाराज़गी में चिल्ला उठे. उज्बेकिस्तान के पहलवान को पेनल्टी के द्वारा एक पॉइंट दे दिया गया, मंगोलिया के पहलवान के द्वारा आख़िरी क्षणों में खेल को चालू नहीं रखा और विडियो रीप्ले की मदद से उज्बेकिस्तान के रेसलर को एक पॉइंट दे दिया गया.

टाई ब्रेकर के नियमों के अनुसार आख़िरी पॉइंट जीतने की वजह से उज्बेकिस्तान के पहलवान को विजयी करार दिया गया. इस पर मंगोलिया के रेसलर रोते हुए निचे गिर पड़े, और उनके कोच बयोरा ने इस निर्णय का विरोध बेहद शर्मनाक तरीके से किया. पहले वो अंपायर की ओर बढ़े और उनसे अपील की वो अपना निर्णय बदले, जब ऐसा नहीं हुआ तो बयोरा के साथ साथ सोस्त्ब्यार ने भी अंडरवियर को छोड़ कर अपने सभी कपड़े निकल दिए.

PROTEST AT RIOइस विरोध का कोई भी असर अंपायर पर नहीं हुआ, और उन्होंने उज्बेकिस्तान के रेसलर को विजयी करार दिया. बाद में सिक्यूरिटी के लोगों ने मंगोलिया के कोच को बाहर निकाला. रोते हुए मंगोलिया के रेसलर ने रेफ़री की औपचारिक निर्णय में हिस्सा लेने से भी इंकार कर दिया.

यह भी पढ़े : देखें किस तरह ट्विटर पर लोगो ने क्या कहा योगेश्वर की हार को लेकर

  • SHARE

    सभी खेलों में दिलचस्पी है लेकिन सबसे पसंदीदा खेल क्रिकेट, पसंदीदा खिलाड़ी विराट कोहली और नोवाक जोकोविच.

    Related Articles

    पाल्मेरास के कोच नियुक्त हुए पूर्व ब्राजीलियाई डिफेंडर मचाडो

    रियो डी जनेरियो, 23 नवंबर; ब्राजील के पूर्व अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी रोजर मचाडो को पाल्मेरास का मुख्य कोच नियुक्त किया गया है। साओ पाउलो क्लब ने...

    PHOTOS- भुवनेश्वर कुमार की संपन्न हुई घोड़ी चढ़ाई, देखे इस शाही शादी की इनसाइड...

    भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार तेज गेंदबाज भुवनेश्ववर कुमार अब तक तो विरोधी गेंदबाजों को अपनी गेंद पर बोल्ड कर रहे थे लेकिन आज...

    TOP 5: इन WWE की बॉडी है असली, नहीं किया शेप देने में किसी...

    WWE को लेकर ज्यादातर फैन्स का ये सोचना होता है कि इसमें नजर आने वाले रेस्लर स्टेरॉयड का इस्तेमाल करते हैं, वे कहीं हद...

    रणजी से आई बुरी खबर, आईपीएल में 3 करोड़ में बिकने वाला यह खिलाड़ी...

    तमिलनाडू के तेज गेंदबाज टी नटराजन, की 24 नवम्बर शुक्रवार को मुंबई के एक अस्पताल में सर्जरी की जाएगी.यह सर्जरी उनकी एल्बो की होगी....

    सागरिका और जहीर ने की शादी, शादी के जोड़े में दोनों की पहली तस्वीर...

    भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान के फैंसों के लिए एक बहुत बड़ी खुशखबरी सामने आ रही हैं,जिसमें जहीर अपने मंगेतर...