कैंसर पीड़ित बच्चे की मदद के लिए बेचा अपना ओलम्पिक पदक - Sportzwiki
न्यूज़

कैंसर पीड़ित बच्चे की मदद के लिए बेचा अपना ओलम्पिक पदक

  • वारसॉ, 27 अगस्त (आईएएनएस/सिन्हुआ)। पोलैंड के एथलीट पियोत्र मालाचोव्स्की के रियो ओलम्पिक में जीते रजत पदक की कीमत सोने से भी अधिक लगाई गई है। वास्तव में पियोत्र ने तीन साल के एक बच्चे की जान बचाने के लिए अपना रजत पदक नीलामी पर लगाई थी। 

    मौजूदा विश्व चैम्पियन पियोत्र आंखों के कैंसर से जूझ रहे पोलैंड के तीन साल के ओलेक जिमांस्की के इलाज के लिए धनराशि इकट्ठा कर रहे हैं और उन्होंने इसीलिए अपना रजत पदक नीलाम किया।

    यह भी पढ़े : बुरी खबर: अगर ऐसा हुआ तो आज नहीं होगा भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच टी-20 मैच

    पियोत्र ने कहा, “रियो ओलम्पिक में मैंने स्वर्ण पदक हासिल करने के लिए जी तोड़ कोशिश की, लेकिन दुर्भाग्य से असफल रहा। हालांकि भाग्य ने मुझे अपने रजत पदक को स्वर्ण में बदलने का एक और मौका दिया।”

    उन्होंने कहा, “ऑपरेशन के लिए धनराशि इकट्ठा करने करने का मेरा यह अभियान सफल रहा। पोलैंड के दिवंगत अरबपती जैन कुलजिक के उत्तराधिकारियों डोमिनिका और सेबास्टियन कुलजिक ने सबसे ऊंची बलो लगाकर मेरा रजत पदक खरीदा। हम यह दिखाने में सफल रहे कि हम साथ मिलकर करिश्मे कर सकते हैं।”

    यह भी पढ़े : सौरव गांगुली ने मैच से पहले ही भारतीय टीम कों दी चेतावनी कहा, वेस्टइंडीज है भारत से बेहतर टीम

    रियो ओलम्पिक में रजत पदक जीतने वाले एथलीट ने अपने इस पदक को नीलामी पर रखा। ऐसा कहा जा रहा है कि बच्चे की आंख के इलाज में 125,000 अमेरिकी डॉलर का खर्च आ सकता है।

    अपने पदक को नीलामी पर रखते हुए पियोत्र ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा था, “रियो में मैं स्वर्ण पदक हासिल करने के लिए खेला था। लेकिन मैं अब सभी से अपील करता हूं कि आइए मिलकर उस चीज के लिए लड़ें जिसकी कीमत सोने से भी ज्यादा है। इस खूबसूरत बच्चे के स्वास्थ्य के लिए। आप सभी का इस नीलामी में स्वागत है।”

    उन्होंने आगे लिखा है, “मैं सभी को इस नीलामी में आमंत्रित करता हूं। अगर आप इसमें मेरी मदद करते हैं तो मेरा यह चांदी का तमगा ओलेक के लिए सोने से भी कीमती साबित होगा।”

    यह भी पढ़े : रियो 30000 बच्चों को बांटेगा पैरालम्पिक खेलों के टिकट

    पियोत्र की मदद की पहल से खुश कई लोगों ने उन्हें एक असली नायक करार भी दिया।

    sw

    Most Popular

    Top