तीसरा टी 20 नहीं खेलेंगे पैट कमिंस, इस युवा गेंदबाज को मिल सकता है मौका | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

तीसरा टी 20 नहीं खेलेंगे पैट कमिंस, इस युवा गेंदबाज को मिल सकता है मौका 

तीसरा टी 20 नहीं खेलेंगे पैट कमिंस, इस युवा गेंदबाज को मिल सकता है मौका

पैट कमिंस ऑस्ट्रेलियन गेंदबाजी आक्रमण के मुख्य गेंदबाज है इसी कारण आगामी टी 20 विश्वकप के लिए उनका स्वस्थ रहना जरूरी है.उनके स्बावस्तथ्य पर गंभीरता से लेते हुए ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट बोर्ड (सीए) ने पैट कमिंस पर अहम फैसला किया है. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उन्हें 8 नवम्बर को पर्थ में पाकिस्तान के खिलाफ आराम देने का फैसला किया है.

लगातार क्रिकेट खेलते आ रहें है पैट कमिंस

पर्थ में खेले जाने वाले पाकिस्तान के खिलाफ तीसरे और अंतिम T20I के लिए ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस को आराम दिया गया है। यह तेज गेंदबाज पिछले 5-6 महीनों से लगातार बिना आराम के खेल रहा है। कमिंस एशेज सीरीज के सभी पांच टेस्ट मैचों का हिस्सा थे। साथ ही, उन्होंने पिछले दो सप्ताह में पांच टी 20 मुकाबले खेले हैं।

पैट कमिंस ने ऑस्ट्रेलिया के लिए अब तक लगातार काफी अच्छा प्रदर्शन किया है. अगले साल ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले आईसीसी टी 20 विश्व कप से पहले उनका स्वस्थ रहना तथा उनकी हाल की अच्छी फॉर्म बहुत जरूरी है।

कमिंस की जगह सीन एबट को मिल सकता है मौका

हालाँकि, सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड के अनुसार, कमिंस को SCG में पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया(WA) के खिलाफ न्यू साउथ वेल्स, शेफ़ील्ड शील्ड गेम में खेलने की उम्मीद है, जिसमें मिशेल स्टार्क, जोश हेज़लवुड, नाथन लियोन, स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर खेल रहें हैं।

यह पाकिस्तान के खिलाफ महत्वपूर्ण टेस्ट सीरीज से पहले उनका एकमात्र रेड-बॉल गेम होगा। अंतिम T20I में, शॉन एबॉट को आराम करने वाले पैट कमिंस की जगह मौका मिलने की संभावना है।

ऑस्ट्रेलियाई टीम के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर ने कहा,

“यह टेस्ट मैच के लिए थोड़ी रिकवरी और तैयारी है।” “हमने पिछले कुछ महीनों में काफी क्रिकेट खेला है और कमिंस लगातार हमारे लिए क्रिकेट खेल रहें है इसलिए हमें पर्थ टी 20 में उनको आराम देने का अवसर मिला है। पूर्व में भी हमने कई बार खिलाडियों को आराम एकर युवा खिलाडियों को मौका दिया है, ”लैंगर ने समझाया। उन्होंने कहा, ” हमें और बेहतर होने की जरूरत है, यह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की प्राथमिकता है। इसलिए, आप हमेशा अपने सर्वश्रेष्ठ खिलाडी के साथ ही मैदान में उतरना चाहते हैं । ”

2010 की गलती को नहीं दोहराना चाहेगी ऑस्ट्रेलिया

T20Is में सफल होने के लिए ऑस्ट्रेलिया ने बेहतरीन तयारीयां कि है। उन्होंने अपनी गलतियों को स्वीकार किया है तथा उन गलतियों पर काम करना चाहते हैं। किसी भी कंडीशन के अनुशार सही प्लेइंग इलेवन खिलाना किसी भी टीम की सफलता का सबसे बड़ा मंत्र है ।

ऑस्ट्रलियन टीम टी 20 विश्वकप में कोई गलती नहीं करना चाहेगी।क्योंकि 2010 में वे विश्वकप जीतने के सबसे करीब आए थे, जहां वे फाइनल में अपने चिर प्रतिद्वंदी इंग्लैंड से एक तरफा मुकाबले में सात विकट से हार गए थे।

Related posts

Leave a Reply