सचिन तेंदुलकर ने एकदिवसीय मैच में दो गेंद के प्रयोग को लेकर विचार करने को कहा

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

इंग्लैंड में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजो की हालत देख सचिन तेंदुलकर ने आईसीसी को दिया ये सुझाव 

इंग्लैंड में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजो की हालत देख सचिन तेंदुलकर ने आईसीसी को दिया ये सुझाव

अभी हाल में ही हुए इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच नॉटिंघम में हुए मैच में जहाँ पर इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने आस्ट्रेलिया के गेंदबाजों की इस तरह धज्जियां उडाई, मैच के दौरान लग ही नहीं रहा था की दो चैंपियन टीमों के बीच मैच खेला जा रहा है. ऐसा प्रतीत होता हुआ नजर आ रहा था जैसे एक तरफ चैंपियन टीम के खिलाड़ी तो दूसरी तरफ  बेहद कमजोर टीम के बीच मैच खेला जा रहा हो.

 

इंग्लैंड में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजो की हालत देख सचिन तेंदुलकर ने आईसीसी को दिया ये सुझाव 1

 

इस मैच के बाद क्रिकेट के दिग्गज लोगों ने अपने अपने हिसाब से प्रतिक्रिया व्यक्त की, सोशल मीडिया पर इंग्लैंड टीम के अविश्वश्नीय प्रदर्शन के कसीदे पढ़े जा रहे थे. ट्विटर पर भी  इंग्लैंड के बल्लेबाजों की प्रसंशा में खूब पोस्ट की जा रही थी. और हो भी क्यू न उसने विश्वविजेता टीम के सामने इतना बड़ा स्कोर खड़ा किया जो वाकई में आस्ट्रेलियन गेंदबाजी की कलई खोल रहा था.

क्रिकेट के दिग्गज बंगाल टाइगर से मशहूर सौरव गांगुली ने गेंदबाजों का बचाव करते हुए कहा की आज इंग्लैंड के बल्लेबाजों का दिन था जिसका उन्होंने भरपूर फायदा उठाया लेकिन मुझे सोचने पर मजबूर कर दिया क्या गेंदबाजों के बचाव के लिए कुछ भी नहीं बचा है, मेरे हिसाब से मिचेल स्टार्क और जोश हेजलवुड को क्रिकेट के सभी प्रारूपों में भाग लेना चाहिए.

इसके बाद क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने भी अब प्रतिक्रिया व्यक्त की है. ट्विटर में दी गयी प्रतिक्रिया में उन्होंने कहा –

 

एकदिवसीय मैचों एम दो गेंद के प्रयोग से गेंदबाजों के पास अपनी क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन करने का मौका नहीं मिल पा रहा है, और ये गेंदबाजों के लिए आई आपदा साबित हो रहा है.  क्यूंकि जब तक गेंद पुरानी होती है उस समय गेंद बदल दी जाती है, जिससे गेंदबाज को गेंद डालने में परेशानी होती है, हमने कई सालों से गेंदबाजों को इसी कारण रिवर्स स्विंग कराते हुए नहीं देखा है.

सचिन के कथन पर सहमत हुए वकार युनुश जो स्विंग के बादशाह थे उन्होंने कहा इस पर विचार विमर्श करने की आवश्यकता है. समर्थन करते हुए  रीट्वीट करते हुए कहा  –  वाकई में अब लगभग क्रिकेट से रिवर्स स्विंग गायब हो गया है जो चिंता का विषय है.

 

 

आईसीसी ने 2011 में क्रिकेट में गेंदबाजी में बदलाव के तहत 25 ओवर तक ही नयी गेंद से गेंदबाजी करा सकते है इसके बाद गेंद को बदल दिया जायेगा. क्रिकेट के दिग्गजों के अनुसार – इस तरह के नियम जोकि क्रिकेट के लिए अभिशाप साबित होते हुए दिखाई दे रहे है इस पर विचार करने की आवश्यकता है.

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई हो इसे खूब शेयर, लाइक करे और कमेंट करना न भूले …

Related posts

Leave a Reply