2013 आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग के आरोपी अजीत चंदेला पर लगा ठगी का आरोप

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग में एस श्रीसंत के साथ शामिल रहे इस खिलाड़ी पर लगा ठगी का आरोप 

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग में एस श्रीसंत के साथ शामिल रहे इस खिलाड़ी पर लगा ठगी का आरोप

भारतीय क्रिकेट इतिहास में काले अध्याय के रूप में सामने आए साल 2013 के आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग कांड को शायद ही कोई भारतीय क्रिकेट प्रशंसक सके जिसमें स्टार क्रिकेट शांताकुमारन श्रीसंत के साथ ही अजीत चंदेला और अंकित चव्हाण जैसे खिलाड़ियों ने स्पॉट फिक्सिंग के कांड को अंजाम देकर भारतीय क्रिकेट की किरकिरी करायी थी।

2013 आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग के आरोपी अंजीत चंदेला का एक और अपराध

राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने वाले इन तीनों ही खिलाड़ियों को बीसीसीआई ने आजीवन प्रतिबंधित कर दिया, लेकिन लगता है कि इसमें शामिल हरियाणा के स्पिन गेंदबाज अजीत चंदेला ने कोई सबक नहीं लिया है।

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग में एस श्रीसंत के साथ शामिल रहे इस खिलाड़ी पर लगा ठगी का आरोप 1

इस स्पॉट फिक्सिंग कांड में लाइफटाइम बैन के बाद अजीत चंदेला का नाम गुमनामी में खो गया था लेकिन एक बार फिर से ये नाम सुर्खियों में आया है और ये अच्छे काम नहीं बल्कि स्पॉट फिक्सिंग जैसे ही बुरे काम के लिए।

अंडर-14 टीम में चयन के नाम पर एक व्यापारी से लाखों की ठगी

जी हां हरियाणा के प्रतिबंधित स्पिन गेंदबाज अंजीत चंदेला ने एक बार फिर से क्रिकेट खेल के नाम पर ठगी का अपराध किया है। जिसमें आरोप सामने आ रहा है कि अजीत चंदेला द्वारा लाखों रूपये की ठगी की गई है।

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग में एस श्रीसंत के साथ शामिल रहे इस खिलाड़ी पर लगा ठगी का आरोप 2

बीसीसीआई से प्रतिबंधित खिलाड़ी अजीत चंदेला ने बच्चों के चयन के नाम पर लाखों की ठगी करने का मामला सामने आया है। उत्तरप्रदेश के हापुड़ के एक व्यापारी ने अंजीत चंदेला पर आरोप लगाया है कि उनके बेटे के अंडर14 टीम में चयन करने के नाम पर साढ़े सात लाख लिए गए थे।

यूपी के व्यापारी ने दर्ज कराया मामला, पुलिस ने शुरू की जांच

इस व्यापारी का आरोप है कि उनके बेटे के अंडर-14 भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल करने का वादा किया गया। इसी की एवज में अजीत चंदेला ने उनसे 7.50 लाख रूपये मांगे। पिछले साल 24 दिसंबर 2018 को व्यापारी अपने बेटे के चयन के लिए अजीत चंदेला को पैसे देने के लिए उनके घर पर पहुंचा। जहां उसने एक जानकार व्यक्ति के सामने चंदेला को 7.50 लाख रूपये दिए।

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग में एस श्रीसंत के साथ शामिल रहे इस खिलाड़ी पर लगा ठगी का आरोप 3

इस पर अजीत चंदेला ने व्यापारी को भरोसा दिया कि उनके बेटे का भारतीय अंडर-14 टीम में फरवरी 2019 तक चयन हो जाएगा। लेकिन पीड़ित के बेटे का अब तक चयन नहीं हो सका है। जब चयन नहीं होने पर मार्च में जब पैसे वापस मांगे तो चंदेला ने 7 लाख का चैक और 50 हजार रूपये नकद देने का आश्वसन किया लेकिन चैक जमा करने के बाद बाउंस हो रहा है। जिसके बाद व्यापारी ने चंदेला के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कराया है। जिसके खिलाफ पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।

Related posts