25 साल बाद जीत की खुशी है खास, शिखर ने कुछ इस तरह मनाया जीत का जश्न

Devesh Jha / 17 February 2018

लगभग दाई दशक के लंबे अंतराल के बाद भारत ने साउथ अफ्रीका की धरती पर कोई वनडे सीरीज अपने नाम की है। इसकी खुशी का ज्यादा से ज्यादा इजहार करना तो लाजमी है। भारतीय क्रिकेट टीम ने शुक्रवार को हुए मूमेंटम वनडे सीरीज के आखिरी मैच में साउथ अफ्रीका को 8 विकेट से हराकर सीरीज को 5-1 के बड़े अंतर से जीत लिया। साउथ अफ्रीका में इतने दिनों के बाद भारत की ये शानदार जीत वाकई में काबिल-ए-तारिफ है।

25 साल बाद जीत की खुशी है खास

सीरीज जीतने के बाद भारतीय टीम के खिलाड़ी पार्टी और सोशल मीडिया पर अपनी खुशी का इज़हार करने लगे। इस क्रम में भारत के ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन ने भी अपने ट्वीटर अकाउंट पर एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में शिखर ने अपने घूरेलू भाषा पंजाबी में अपनी टीम की इस खास जीत का इज़हार किया। उन्होंने अपने इस ट्वीट में पंजाबी भाषा में लिखा कि “लो जी चको ट्रॉफी ते मांगों खुशियां, 25 साल बाद जवानों ने जंग जीती हैं…. बुराह्ह्ह्ह्” (खुशी मनाने का शब्द)

शिखर का सेलीब्रेशन

इस भाषा का हिंदी में अर्थ है कि “25 साल बाद जंग जीती तो ट्रॉफी लो और मनाओ खुशियां”। इस ट्वीट के साथ उन्होंने भारतीय टीम को मिली विनिंग ट्रॉफी के साथ वाली पिक्चर भी पोस्ट की। धवन के इस ट्वीट पर उनके और टीम इंडिया के फैन्स ने कभी रिप्लाई किया। आपको बता दें कि भारत के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने इस पूरे सीरीज में काफी रन बनाए हैं। शिखर धवन पिछले कुछ महीनों से भारतीय टीम के लिए काफी शानदार प्रदर्शन करते आए हैं। उनका ये फॉर्म साउथ अफ्रीका में मूमेंटम वनडे सीरीज के दौरान भी जारी रहा। उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ सभी 6 मैच खेले और उसमें उन्होंने 64.60 की औसत से 323 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 104.19 का रहा। इस दौरान धवन ने 2 अर्धशतक और एक शतक भी लगाया।

विराट की शानदार निरंतरता

शिखर के अलावा इस सीरीज में भारतीय कप्तान विराट कोहली एक बार फिर छाए रहें। आखिरी वनडे मैच में भी 96 गेंदों में 129 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली। इसके लिए उन्हें आखिरी मैच में एक बार फिर मैन ऑफ द मैच चुना गया। रन मशीन के नाम से मशहूर विराट कोहली ने मूमेंटम सीरीज के 6 मैचों में 186 की बेजोड़ औसत से 558 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 99.47 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। विराट ने इस सीरीज में भी 3 शतक और एक अर्धशतक लगाया और उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 160 रन का रहा। पूरी सीरीज में जबरदस्त प्रदर्शन की वजह से विराट को मैन ऑफ द सीरीज का खिताब दिया गया।