3 बल्लेबाज जो इस साल सचिन तेंदुलकर के एक विश्व कप में सबसे ज्यादा रन के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं 1

आईसीसी विश्व कप में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम दर्ज है। वहीं एक विश्व कप में भी सबसे ज्यादा रन बनाने ला रिकॉर्ड सचिन के नाम ही है। सचिन ने 2003 विश्व कप में 673 रन बनाये थे। कोई भी बल्लेबाज उनके इस रिकॉर्ड को तोड़ नहीं पाया है। आज हम आपको तीन ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो इस बार सचिन का यह रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं।

3. डेविड वॉर्नर (ऑस्ट्रेलिया)

3 बल्लेबाज जो इस साल सचिन तेंदुलकर के एक विश्व कप में सबसे ज्यादा रन के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं 2

ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। एक साल के बैन के बाद वॉर्नर ने शानदार वापसी की है। उन्होंने आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाये हैं। इसके बाद न्यूजीलैंड के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में अभ्यास मैचों में भी उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की है।

वॉर्नर को सचिन का रिकॉर्ड तोड़ने के प्रबल दावेदार माना जा रहा है। वनडे क्रिकेट में अभी तक खेले 106 वनडे मैचों में वॉर्नर ने 4343 रन बनाये हैं। इसके 14 शतक भी शामिल हैं।

2. जॉनी बैरेस्टो (इंग्लैंड)

3 बल्लेबाज जो इस साल सचिन तेंदुलकर के एक विश्व कप में सबसे ज्यादा रन के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं 3

इंग्लैंड के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज जॉनी बैरेस्टो ने पिछले समय में इंग्लैंड को लगातार बेहतरीन शुरुआत दी है। उन्होंने विश्व कप की पिचों के बारे में अन्य देशों के बल्लेबाजों से ज्यादा पता भी है।

अभी तक बैरेस्टो ने अपने करियर में 60 वनडे मुकाबले खेले हैं। इन मैचों में उन्होंने नाम 2169 रन दर्ज हैं। उन्होंने यह रन 105 की स्ट्राइक रेट से बनाये हैं और इसी वजह से उन्हें सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ने का मौका है।

1. शिखर धवन (भारत)

3 बल्लेबाज जो इस साल सचिन तेंदुलकर के एक विश्व कप में सबसे ज्यादा रन के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं 4

भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन आईसीसी टूर्नामेंट में शानदार बल्लेबाजी करते हैं। वह इंग्लैंड में हुए चैंपियंस ट्रॉफी 2013 और 2017 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे।

पिछले विश्व कप में भी वह भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। यही वजह है कि उन्हें सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ने का उन्हें प्रबल दावेदार माना जा रहा है। धवन सलामी बल्लेबाज हैं और इसी वजह से उन्हें ज्यादा बल्लेबाजी करने का मौका भी मिलेगा।