भारत का श्रीलंका दौरा कप्तान कोहली के लिए अग्नि परीक्षा

भारतीय टीम तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिए सोमवार को श्रीलंका के लिए रवाना हो चुकी है. विराट कोहली बांग्लादेश टेस्ट के बाद दूसरी बार श्रृंखला में भारत का नेतृत्व करेंगे. आधिकारिक टेस्ट 12 अगस्त से शुरू होने से पहले 6 अगस्त को भारत तीन दिन तक वार्मअप मैच खेलेगा.

बांग्लादेश टेस्ट में विराट कोहली के पांच गेंदबाजों के फार्मूले ने वाहवाही बटोरी थी .लेकिन इस समय पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज हारने वाले श्रीलंका के खिलाफ श्रृंखला है जोकि उनके पक्ष में बदलाव के लिए भरपूर कोशिश करेगा. श्रीलंका में पूर्व योजना भारत के मौके को प्रभावित कर सकती है इसलिए विराट कोहली को पिचों के हालातों के अनुसार जाना चाहिए जिसमे बुद्धिमानीपूर्वक निर्णय लेने की जरूरत है. और अगर टेस्ट का परिणाम सकारात्मक नहीं आया तो विराट को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ सकता है.

6-5 संयोजन
पांच गेंदबाज चुनना तो सही है लेकिन सवाल ये है कि विराट तीन तेज गेंदबाज और दो ​​स्पिनर या चार तेज गेंदबाज एक स्पिनर को चुनेंगे. वैसे लगता है कि विराट दो स्पिनरों के साथ खेलेंगे. लेकिन फिर अगला सवाल ये उठता है कि विराट दो ऑफस्पिनर के साथ खेलेंगे या लेग स्पिनर कि जगह भरने के लिए अमित मिश्रा को शामिल करेंगे. विराट को पहले टेस्ट मैच से पहले एक कठिन निर्णय लेना है, वार्म अप मैच में वह अश्विन , हरभजन और अमित मिश्रा और तीन तेज गेंदबाजों भुवनेश्वर कुमार , इशांत शर्मा, और उमेश यादव के साथ खेल सकते हैं.

वहीँ अगर बल्लेबाजी के बारे में बात करे तो यह गेंदबाजी डिपार्टमेंट से ज्यादा जटिल है. दो बातें उठती है कि क्या विराट एक बल्लेबाज को ड्रॉप कर , हरफनमौला खिलाड़ी के रूप में अश्विन के साथ खेलेंगे? लेकिन लगता नहीं की ऐसा होगा .बल्लेबाजी लाइन अप शिखर धवन के साथ शुरू होती है, विराट नंबर 4 पर, अजिंक्य नंबर 5 पर. जबकि नंबर 2 और 3 पर कौन होगा ये अभी विचाराधीन है. और नंबर 6, पर विकेटकीपर रिधिमान साहा होंगे.

7-4 संयोजन
भारत अगर बल्लेबाजी – लाइनअप को मजबूत करने के लिए 7 बल्लेबाजों और चार गेंदबाजों के साथ खेलता है तो पुजारा और राहुल का टीम में होने को लेकर संघर्ष नहीं होगा क्योंकि दोनों ही टीम में खेल सकेंगे. लेकिन गेंदबाज़ो का चयन कठिन हो जायेगा. अश्विन और हरभजन तो टीम में होंगे पर उमेश यादव और इशांत शर्मा के टीम में होने की भुवनेश्वर और वरुण आरोन  से अधिक सम्भावना है.

5-6 संयोजन
इस संयोजन में धवन में, केएल राहुल , पुजारा , विराट कोहली और साहा विशेषज्ञ बल्लेबाज की भूमिका निभाएंगे. जबकि अश्विन 36 के औसत के साथ विशेषज्ञ ऑलराउंडर की भूमिका निभाएंगे. यह संयोजन अधिक उपयुक्त होगा अगर टीम प्रबंधन पिच को सीवन और स्पिन के अनुकूल पाता है और भुवनेश्वर कुमार , इशांत शर्मा और उमेश यादव…अश्विन, हरभजन और अमित के साथ टीम में अपना खेल जारी रख सकते हैं.

Related Topics