टीम इंडिया के ये 3 खिलाड़ी साल 2022 खत्म होने तक ले सकते हैं संन्यास

टी20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया (Team India) का बहुत ही ख़राब रहा। इंग्लैंड के हाथों 10 विकेट से हार के बाद कई खिलाड़ियों के संन्यास के कयास लगाए जाने लगे हैं। हम आपको ऐसे ही तीन खिलाड़ियों के बारे में यहां बताएंगे,जो टी20 विश्व कप में मौका मिलने के बाद भी अबतक ख़राब प्रदर्शन करते आये हैं। उन्हें आने वाले भविष्य में टी20 टीम में मौका नहीं मिलेगा और जल्द वे संन्यास ले सकते हैं।

दिनेश कार्तिक

टीम इंडिया के विकेटकीपर-बल्लेबाज दिनेश कार्तिक टी20 विश्व कप में बल्ले से खामोश रहे हैं। कार्तिक पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मुसीबतों में फंसी टीम इंडिया को बाहर निकाल पाने में नाकाम रहे थे। टीम इंडिया (Team India) के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) जिन्हें टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में 6 मुकाबलों में से 4 मुकाबलों में प्लेइंग XI में मौका मिला था। लेकिन कार्तिक इन मौके को भुनाने की बजाए गंवाते नजर आए, उन्होंने इस दौरान बेहद ही फ्लॉप प्रदर्शन किया।

उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ 1, साउथ अफ्रीका के खिलाफ 6 और बांग्लादेश के खिलाफ 7 रनों की पारियां खेली। उनका ये फ्लॉप प्रदर्शन देखते हुए उन्हें न्यूजीलैंड टी-20 सीरीज में मौका नहीं दिया और आराम दिया गया। ऐसे में ये माना जा रहा है कि उनका टी-20 क्रिकेट करियर जल्द ही खत्म हो सकता है।वहीं, विकेट के पीछे कार्तिक ने बांग्लादेश के खिलाफ मुकाबले में कई मौके गंवाएं. ऐसे में, तीन साल बाद टी20 में वापसी कर रहे कार्तिक ने इस फॉर्मट से अपने वापसी की कहानी ख़राब प्रदर्शन (Team India) से लिख दी है।

रविचंद्रन अश्विन

दूसरे नंबर पर है टीम इंडिया (Team India) के स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravi Chandran Ashwin) का नाम, जिन्हें ऑस्ट्रेलिया में खेले गए टी20 विश्व कप 2022 में खेलने का मौका मिला था। इस पूरे टूर्नामेंट में अश्विन 8.15 की इकॉनमी रेट से सिर्फ छह विकेट ही ले पाए। वहीं सेमीफाइनल मैच में तो अश्विन का प्रदर्शन काफी खराब रहा और उन्होंने दो ओवरों में 27 रन लुटा दिए थे।

ऐसे में उनके फ्लॉप प्रदर्शन के बाद उन्हें न्यूजीलैंड सीरीज की टी-20 सीरीज में भारतीय स्क्वॉड में शामिल नहीं किया। ऐसे में ये माना जा रहा है कि उनका टी-20 क्रिकेट करियर जल्द ही खत्म हो सकता है।दाएं हाथ का यह स्पिनर पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट का भी हिस्सा था।अश्विन का अब पूरी तरह से अपने टेस्ट करियर पर फोकस करना हो सकता है। साथ ही, T20I टीम में उनके कम चयन के कारण, वह सबसे छोटे प्रारूप को अलविदा कहने का निर्णय ले सकते हैं।

ईशांत शर्मा

ईशांत शर्मा टेस्ट मैच क्रिकेट में भारत के सर्वकालिक महान खिलाड़ियों में से एक हैं। 34 वर्षीय इशांत खेल के सबसे लंबे प्रारूप में भारत के लिए छठे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं और उन्होंने 101 टेस्ट मैचों में 303 विकेट लिए हैं। जबकि शर्मा अभी भी टेस्ट मैच क्रिकेट में भारतीय टीम के महत्वपूर्ण खिलाडी है। शर्मा ने आखिरी बार सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारत के लिए एक मैच जनवरी 2016 में खेला था, जब उन्होंने सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (SCG) में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एकदिवसीय मैच खेला था।

शर्मा ने भारत के लिए अपना आखिरी टी20 मैच साल 2013 में खेला था। ईशांत शर्मा अपने करियर में भारत के लिए केवल 80 एकदिवसीय और 14 टी20 मैच खेलने में सफल रहे हैं। और, उनके साथ पहले से ही 32 साल से अधिक उम्र के हो चुके हैं और पहले से वो ODI और T20I में नहीं खेलते है।ऐसे में तेज गेंदबाज के लिए सबसे अच्छा होगा कि वह वनडे या टी20 अंतरराष्ट्रीय से संन्यास की घोषणा कर दे ताकि वह अपने टेस्ट करियर को लंबा खींच सके।