36 खिलाड़ियों का करियर है अंत की ओर, जल्द इंग्लैंड से किया जा सकता है बाहर

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

36 खिलाड़ियों का करियर है अंत की ओर, जल्द इंग्लैंड से किया जा सकता है बाहर 

36 खिलाड़ियों का करियर है अंत की ओर, जल्द इंग्लैंड से किया जा सकता है बाहर

कोल्पक को तो सब लोग जानते ही हैं क्योंकि पिछले कुछ सालों से कई खिलाड़ी इसमें जुड़ चुके हैं. इसमें खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय खेल छोड़ कर इंग्लैंड में  काउंटी क्रिकेट खेलने लग जाते हैं. जो देश भी यूरोपीय यूनियन के अंदर आते हैं वो अपने खिलाड़ियों को इंग्लैंड  के अंदर खिला सकते हैं. लेकिन अब ब्रिटेन के यूरोपीय यूनियन से अलग होने की संभावनाओं के बीच ‘कोलपैक डील’ लेने वाले 36 खिलाड़ियों पर खतरा मंडराने लगा है.

2020 तक ही रहेगी 36 खिलाड़ियों की कोल्पक डील

36 खिलाड़ियों

जो खिलाड़ी भी इस डील से जुड़ जाता है वो फिर से राष्ट्रिय टीम के लिए कोई मैच नहीं खेल सकता है, उसको सिर्फ इंग्लैंड के लिए ही खेलेगा, इस डील के रद्द होने से सबसे ज्यादा नुकसान दक्षिण अफ्रीका टीम के खिलाड़ियों को होगा.

वर्तमान में काउंटी क्‍लब ने करीब 36 क्रिकेटरों को कोलपैक के तहत जोड़ रखा है. इनमें से ज्‍यादातर खिलाड़ी दक्षिण अफ्रीका से आते हैं.

ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन बिना किसी समझौते के यूरोपीय यूनियन से बाहर होने के समर्थक हैं. अगर ऐसा होता है तो नए कोलपैक समझौते नहीं हो पाएंगे और पुराने समझौते 2020 के सीजन तक ही मान्‍य होंगे.

यह खिलाड़ी कोल्पक डील के अंदर खेल रहे हैं या खेल चुके हैं

36 खिलाड़ियों का करियर है अंत की ओर, जल्द इंग्लैंड से किया जा सकता है बाहर 1

इस डील में ज्यादातर दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड और भारत के खिलाड़ी हैं, इनमे से कई नामी खिलाड़ी भी शामिल हैं जैसे मर्चेंट डी लांगे, रिली रोसो, ग्रांट इलियट (न्‍यूजीलैंड), डेविड वीज, टीनो बेस्‍ट, डेरिन स्मिट, हार्डस विल्‍यन, रवि रामपॉल, रिचर्ड लेवी, ड्वेन स्मिथ, जस्टिन केंप, शॉन पोलक, वावेल हाइंड्स, आंद्रे नेल, नील मैकेंजी, निकी बोए, आंद्रे एडम्‍स, अल्‍फोंसो थॉमस, एंड्रयू हॉल, चार्ल लेंग्‍वेल्‍ट, एश्‍वेल प्रिंस, कोलिन इनग्राम, अल्‍वीरो पेटरसन, ब्रेंडन टेलर.

इस डील से जुड़ी यह बातें शायद ही आप जानते हो

36 खिलाड़ियों का करियर है अंत की ओर, जल्द इंग्लैंड से किया जा सकता है बाहर 2

अब आपको बताते हैं कि कोल्पक डील को अपनाने वाला खिलाड़ी इंग्लैंड की अंतर्राष्ट्रीय टीम में जुड़ सकता है, पर  इसके लिए खिलाड़ी को 18 साल की उम्र में इस डील को अपनाकर सात साल तक इस डील के अंदर इंग्लैंड में खेलना होगा इसके बाद ही उसको इंग्लैंड की टीम में जगह मिल सकती है.

दूसरी बात इसके इकदम उलटी है वर्ष 2009 तक कोई भी खिलाड़ी इस डील को अपना सकता था पर इससे इंग्लैंड में इस बात को लेकर विरोध हुआ कि इस तरह इंग्लैंड के प्रतिभाशाली युवाओं को टीम में जगह नहीं मिलने लगी जिसके कारण बाद में इस नियम को बदलना पड़ा.

इस नियम को बदलने के बाद बोला गया की इस डील को जो खिलाड़ी इस डील को साइन करेगा उसको पहले अपने देश के लिए खेलना होगा इसके बाद ही वह इस डील को साइन कर सकता है. इस डील के खत्म होने के बाद वह खिलाड़ी फिर से अपनी टीम में लौट सकता है.

Related posts