जानिए क्रिकेट में टॉस के 4 विकल्प क्या हो सकते हैं

Sportzwiki संपादक / 18 September 2015

टॉस खेल तय करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. विश्व भर में क्रिकेट में खेल शुरू करने से पहले एक सिक्के को उछाल कर टॉस किया जाता है जिसके आधार पर ही यह फैसला होता है कि कौनसी टीम पहले बल्लेबाज़ी व् गेंदबाज़ी करेगी. लेकिन जबसे महान पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने टेस्ट क्रिकेट में इस तरीके को हटाकर कुछ और करने का विचार रखा है तबसे यह क्रिकेट में एक बहस का विषय बन गया है.

पोंटिंग के इस विचार को समर्थन और आलोचना दोनों ही मिल रहे हैं जहाँ स्टीव वॉ और माइकल होल्डिंग जैसे खिलाड़ियों ने इस विचार को मंजूरी दी है वहीँ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ( आईसीसी) ने अभी तक इस पर गौर नहीं किया है.

अगर टॉस में ऐसा कुछ बदलाव होता है तो सिक्के को उछलने की बजाये क्या विकल्प हो सकते हैं आइये देखते हैं-

# 1 दूर देश की परिस्थितियों में खेलने जाने का लाभ

काफी अरसे से ये देखा गया है कि अपने देश से दूर खेलने के लिए जाने वाली टीम का ये कहना होता है कि उन्हें विदेशी परिस्थितियों के अनुसार ढलने व् समझने में वक़्त लगने के कारण उनके प्रदर्शन पर असर पड़ता है. दूसरी ओर घरेलू टीम को हमेशा मौजूदा स्थितियों का बेहतर ज्ञान होता है जोकि मैच शुरू होने से पहले ही उन्हें विपक्ष पर एक मामूली बढ़त देता है. इस सब के आधार पर अगर टॉस का विकल्प चुना जाये तो दूर टीम को बल्लेबाजी या गेंदबाजी करने के लिए तय करने का मौका दिया जा सकता है.

 

# 2 रैंकिंग

एक अव्वल रैंक टीम, सहयोगी राष्ट्र या एक निचली रैंकिंग वाली टीम के खिलाफ एक श्रृंखला या एक ऑफ मैच खेले यह आज खेल का एक नियमित हिस्सा बन गया है. कई बार मुकाबला ऐसा होता है कि निचले रैंक की टीम को उभरने का मौका ही नहीं मिलता. अगर टॉस का एक विकल्प ऐसा कर दिया जाये कि कम रैंक वाली टीम को मैच में अपना पहला कार्य चुनने का मौका दिया जाये तो मैच में और अधिक एंटरटेनमेंट का तड़का लग सकता है.

# 3 विजेता की इच्छा

टॉस का एक विकल्प ये भी होसकता है कि जो टीम अपने पिछले मुकाबले में विजयी होकर उभरी थी उस टीम को मैच में पहले बल्लेबाजी या गेंदबाजी के रूप में अपने रुख का चयन करने के लिए विशेषाधिकार दिया जाये. इस तरह, एक मैच का परिणाम टीम के लिए आगामी टॉस के विजेता को उजागर करेगा.

#4 स्टंप पर गेंदबाजी

इस विकल्प के आधार पर प्रत्येक टीम के गेंदबाजी विभाग से पांच खिलाड़ियों को शामिल करना होगा जोकि स्टंप पर गेंदबाजी करेंगे. जो टीम सबसे अधिक स्टंप्स गिराएगी वह प्रतियोगिता जीत जाएगी. यह केवल बल्लेबाजी और गेंदबाज़ी का निर्णय तय करने में काम नहीं आएगा बल्कि गेंदबाज़ो को मैच से पहले पिच का जायजा लेने व् परिस्थितियों को समझने का मौका भी मिलेगा.

Related Topics