41 वर्षीय इस गेंदबाज ने मुंबई के खिलाफ झटके 5 विकेट, सूर्यकुमार यादव ने भी टेके घुटने 1

भारत के घरेलू क्रिकेट में फिलहाल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जारी है जहां भारत के युवा खिलाड़ी अपना जलवा बिखर रहें हैं। इस सीजन की सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में कई युवा खिलाड़ी जलवा बिखरते हुए चर्चा में आए। कई खिलाड़ी सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के जरिए ही आईपीएल में इंट्री करना चाहते हैं। लेकिन इसी बीच एक और क्रिकेटर अपने शानदार प्रदर्शन के बदौलत चर्चा में आया लेकिन उसकी उम्र 41 साल की थी।

उम्रदराज खिलाड़ी ने किया कमाल

गेंदबाज

क्रिकेट एक ऐसा खेल हैं जहां उम्र का फर्क नहीं पड़ता की आप की उम्र क्या है। इस बात की सच साबित किया पुड्डुचेरी के 41 वर्षीय क्रिकेटर सांता मूर्ति ने जिनके गेंदबाजी के सामने सूर्यकुमार यादव जैसा स्टार ने घुटने टेक दिए। वहीं उन्होंने मैच में 5 विकेट झटककर विरोधी टीम मुंबई को 100 रन के भीतर समेत दिया।

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के मौजूदा सीजन में 41 साल के तेज गेंदबाज सांता मूर्ति ने अपना जलवा दिखाया। पुड्डुचेरी के लिए खेलने वाले सांता मूर्ति ने मुंबई जैसी मजबूत टीम के सामने जलवा बिखेरा। उनके घातक गेंदबाजी के सामने मुंबई 94 रनों पर सिमट गई।

सूर्यकुमार यादव ने टेके घुटने

41 वर्षीय इस गेंदबाज ने मुंबई के खिलाफ झटके 5 विकेट, सूर्यकुमार यादव ने भी टेके घुटने 2

पुड्डुचेरी 41 वर्षीय तेज गेंदबाज सांता मूर्ति ने मुंबई के खिलाफ 4 ओवर गेंदबाजी की जिसमें उन्होंने 20 रन खर्च किए और 5 बल्लेबाजों को आउट करके वापस पवेलियन भेजा। इन 5 खिलाड़ियों मे सूर्यकुमार यादव जैसे स्टार भारतीय खिलाड़ी भी शामिल थे, जो आईपीएल में विश्व स्तरीय गेंदबाजों के सामने धमाल मचा चुके हैं।

मुंबई के खिलाफ पुड्डुचेरी की ओर से सांता मूर्ति को पावरप्ले में गेंदबाजी करने आए। उन्होंने पावरप्ले में ही मुंबई के 3 बड़े विकेट सूर्यकुमार यादव, सिद्देश लाड, और आदित्य तरे को आउट करके वापस पवेलियन भेजा। मुंबई के इन तीनों ही बल्लेबाजों ने विकेटकीपर पुड्डुचेरी के कीपर शेल्डन जैक्सन को कैच थमाया।

पावरप्ले के बाद उन्होंने युवा बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल को आउट किया, फिर सुजीत नाइक को आउट कर उन्होंने अपने पांच विकेट पूरे किये। इसके साथ ही सांता मूर्ति ने वर्ल्ड रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। सांता मूर्ति टी20 क्रिकेट में पांच विकेट झटकने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन गए।

सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बने सांता मूर्ति

41 वर्षीय इस गेंदबाज ने मुंबई के खिलाफ झटके 5 विकेट, सूर्यकुमार यादव ने भी टेके घुटने 3

सांता मूर्ति की उम्र फिलहाल 41 साल 129 दिन है, उन्होंने केनुट टुलोच का रिकॉर्ड तोड़ा जो की साल 2006 में सेंट लूसिया के खिलाफ 21 रन देकर 5 विकेट लिये थे। सांता मूर्ति का जन्म 10 सितंबर 1979 को हुआ था और उन्होंने 10 अक्टूबर 2019 को पुड्डुचेरी के लिए अपना लिस्ट ए मैच खेला।

साल 2019 में ही उन्होंने पहला टी20 मैच सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में खेला। साल 2020 में फरवरी में सांता मूर्ति ने अपना पहला रणजी ट्रॉफी मैच खेला और उन्होंने पांच विकेट झटके थे। सांता मूर्ति ने 40 साल, 155 दिन की उम्र में डेब्यू मैच में ही 5 विकेट लेने का विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया था।