5 गेंदबाज जिन्होंने विश्व कप इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट चटकाए हैं

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

5 गेंदबाज जिन्होंने विश्व कप इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट चटकाए हैं 

5 गेंदबाज जिन्होंने विश्व कप इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट चटकाए हैं

विश्व कप क्रिकेट का सबसे बड़ा टूर्नामेंट माना जाता है। क्रिकेट के किसी भी टूर्नामेंट को जीतने के लिए अच्छी बल्लेबाजी के साथ ही बेहतरीन गेंदबाज होने चाहिए। टीम की जीत और हार में बल्लेबाजों से ज्यादा गेंदबाजों की भूमिका होती है। इस टूर्नामेंट में भी कुछ ऐसा ही होता है। आज हम आपको इस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले 5 गेंदबाजों के बारे में बताने जा रहे हैं।

5. जहीर खान (भारत)

विश्व कप

भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान विश्व कप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में पांचवें स्थान पर हैं। 2003, 2007 और 2011 विश्व कप में हिस्सा लेने वाले जहीर ने 23 मैचों में 44 विकेट चटकाए हैं। 2011 में वह संयुक्त रूप से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी थे।

4. चमिंडा वास (श्रीलंका)

विश्व कप

श्रीलंका के पूर्व तेज गेंदबाज चमिंडा वास 1996 से 2007 के बीच चार विश्व कप में हिस्सा लिया। 1996 में टीम विजेता बनी थी वहीं 2007 में भी फाइनल तक का सफर तय किया था। इस टूर्नामेंट में खेले 31 मैचों में उन्होंने 49 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजे हैं। उनका सबसे बेहतरीन प्रदर्शन 25 रन देकर 6 विकेट है।

3. वसीम अकरम (पाकिस्तान)

इस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज वसीम अकरम हैं। वसीम की शानदार गेंदबाजी की बदौलत पाकिस्तान 1992 विश्व कप का विजेता भी बना था वहीं टीम 1999 में फाइनल तक पहुँचने में सफल हुई थी। 1987 से 2003 तक खेले 5 विश्वकप में उन्होंने 38 मैच खेले हैं और 55 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजने में सफल रहे हैं।

2. मुथैया मुरलीधरन (श्रीलंका)

वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले मुथैया मुरलीधरन विश्व कप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं। उन्होंने 5 विश्व कप खेले हैं और 40 मैचों में 68 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा था। मुरली 1996 में विजेता टीम का हिस्सा थे वहीं 2007 और 2011 में फाइनल मुकाबला खेला था।

1. ग्लेन मैकग्रा (ऑस्ट्रेलिया)

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा विश्व कप क्रिकेट के सबसे सफल खिलाड़ियों में गिने जाते हैं। उन्होंने चार विश्व कप खेले और टीम को तीन में जीत मिली वहीं एक में फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को हार मिली थी। उन्होंने 39 मैचों में 71 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा था। विश्व कप में सबसे बेहतरीन गेंदबाजी का रिकॉर्ड भी मैकग्रा के नाम दर्ज है।

Related posts