5 क्रिकेटर जिन्होंने कम उम्र क्रिकेट को छोड़ अपनाया दूसरा प्रोफेशन

Trending News

Blog Post

एडिटर च्वाइस

5 क्रिकेटर जिन्होंने बीच में ही क्रिकेट छोड़ दूसरे क्षेत्र में बनाया अपना करियर, आज हैं बड़े नाम 

5 क्रिकेटर जिन्होंने बीच में ही क्रिकेट छोड़ दूसरे क्षेत्र में बनाया अपना करियर, आज हैं बड़े नाम

क्रिकेटर बनने के लिए किसी भी व्यक्ति को बचपन से ही कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। इसके बाद जाकर कहीं उसे घरेलू मैच में खेलने का मौका मिलता है। अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने के लिए उन्हें लगातार मेहनत करने के साथ ही किस्मत की भी जरूरत होती है। हालाँकि, कई ऐसे भी क्रिकेटर हुए हैं, जिन्हे इंटरनेशनल क्रिकेट को कम उम्र में छोड़कर अन्य प्रोफेशन को अपना लिया। आज हम आपको 5 ऐसे ही नामों के बारे में बताने जा रहे हैं।

5. ज़फर अंसारी (इंग्लैंड)

इंग्लैंड टीम के ऑल राउंडर जफर अंसारी ने सिर्फ 25 साल की उम्र में क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ 2016 में अपना टेस्ट डेब्यू किया था। वह 2016 में इंग्लैंड टीम के साथ भारत दौरे पर भी आये थे।

उन्होंने कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से मास्टर्स की डिग्री ली और लॉ में अपना करियर बनाने के लिए क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की थी। वो अभी इनक्वेस्ट चैरिटेबल ट्रस्ट के साथ काम कर रहे हैं। उन्होंने इंग्लैंड के लिए तीन टेस्ट और एक वनडे मैच खेला था।

4. क्रिस्टोफर कार्टर (हॉन्ग कॉन्ग)

हॉन्ग कॉन्ग के विकेटकीपर बल्लेबाज क्रिस्टोफर कार्टर ने भी सिर्फ 21 साल की उम्र में क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। उन्होंने 18 साल की उम्र में अपना पहला मैच खेला था। अपने करियर में 11 वनडे और 10 टी-20 मैच खेलने वाले कार्टर ने एशिया कप 2018 के बाद संन्यास लिया था।

ऑस्ट्रेलिया में पाइलट बनने के लिए उन्होंने संन्यास की घोषणा की थी। उन्होंने अपना अंतिम अंतरराष्ट्रीय मैच भारत के खिलाफ एशिया कप 2018 में खेला था। वह सबसे कम उम्र में संन्यास लेने वाले क्रिकेटरों की लिस्ट में भी शामिल हैं।

3. हेनरी ओलंगा (जिम्बाब्वे)

90 के दशक में सचिन तेंदुलकर और हेनरी ओलंगा के बीच जबरदस्त मुकाबला देखने को मिलता था। उन्होंने 2003 विश्व कप के बाद सिर्फ 27 साल की उम्र में क्रिकेट छोड़ने का फैसला किया था। उन्होंने जिम्बाब्वे के लिए 30 टेस्ट और 50 वनडे मैच खेले थे।

क्रिकेट छोड़ने के बाद वह गायक बन गये। वह अभी ऑस्ट्रेलिया में रहते हैं और वहां इसी साल द वॉइस ऑस्ट्रेलिया में भी हिस्सा लिया था। उन्होंने 2006 में इंग्लैंड की द ऑल स्टार टैलेंट शो भी अपने नाम किया था। उनके नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में 126 विकेट थे।

2. जोगिंदर शर्मा (भारत)

वर्ल्ड टी-20 फाइनल का अंतिम ओवर डालकर भारत को विजेता बनाने वाले जोगिंदर शर्मा का इंटरनेशनल करियर ज्यादा लंबा नहीं चला। इस मैच के बाद उन्हें भारत के लिए कोई और इंटरनेशनल मैच भी खेलने को नहीं मिला।

आईपीएल और घरेलू क्रिकेट में खेलने के बाद उन्होंने 2017 में क्रिकेट को अलविदा कह दिया। संन्यास लेने के समय उनकी उम्र सिर्फ 33 साल थी। अभी वह हरियाणा पुलिस में डीएसपी हैं और इसी वजह से क्रिकेट को छोड़ने के फैसला किया था।

1. ब्रेट शुल्त्स (दक्षिण अफ्रीका)

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट शुल्त्स ने अपने करियर की बेहतरीन शुरुआत की थी। उन्होंने सिर्फ 9 टेस्ट मैच खेले और इसमें उनके नाम 20 की औसत से 37 विकेट थे। उन्होंने 1993-94 के श्रीलंका दौरे पर धीमी पिच पर बल्लेबाज को जमकर परेशान किया और तीन टेस्ट में 20 विकेट चटकाए।

27 साल की उम्र में उन्होंने अपना अंतिम इंटरनेशनल मैच खेला और इसके बाद वह बिजनेसमैन बन गये। वह अभी शोर्ट टर्म इंसोरेंस स्पेशलिस्ट और इकोनोरोइस्क ब्रोकर्स कंसलटेंट के डायरेक्टर हैं। इसके साथ ही वह कई चैरिटी भी चलाते हैं।

Related posts