टी-20 विश्व कप: 5 ऐसे खिलाड़ी जो उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

टी-20 विश्व कप: 5 ऐसे खिलाड़ी जो उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे 

टी-20 विश्व कप: 5 ऐसे खिलाड़ी जो उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे

क्रिकेट डेस्क। वेस्टइंडीज ने पिछले दिनों रोमांचक ‍फाइनल में इंग्लैंड को हराकर ट्‍वेंटी-20 विश्व कप का खिताब दूसरी बार जीतकर इतिहास रचा। कैरेबियाई खिलाड़‍ियों के जुझारूपन को तो इस टूर्नामेंट के दौरान सभी ने देखा, लेकिन इस दौरान कई ऐसे दिग्गज खिलाड़ी भी रहे जिनकी असफलता के चलते उनकी टीम की उम्मीदों को झटका लगा। एबी डी’विलियर्स और रोहित शर्मा जैसे धुरंधरों की असफलता ने क्रमश: दक्षिण अफ्रीका और भारत को खिताब से दूर रखा।

आइए नजर डालते हैं ऐसे कुछ चुनिंदा खिलाड़‍ियों पर जिनके फ्लॉप होने से उनकी टीमों की उम्मीदें ध्वस्त हुई।

रोहित शर्मा

टी-20 विश्व कप: 5 ऐसे खिलाड़ी जो उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे 1
रोहित शर्मा पिछले वर्ष तक सीमित ओवरों के प्रारूप में टीम इंडिया की बल्लेबाजी की जान रहे, लेकिन यह वर्ष उनके लिए बहुत खराब साबित हो रहा है। एशिया कप के साधारण प्रदर्शन के बाद टीम इ‍ंडिया को उनसे अपने घर में हुए टी-20 विश्व कप में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी, लेकिन वे इसमें नाकाम रहे। रोहित सुपर 10 राउंड के चार मैचों में कुल 45 रन (5, 10, 18 और 12) रन ही बना पाए। सेमीफाइनल में वेस्टइंडीज के खिलाफ बल्लेबाजी की अनुकुल पिच पर उनके पास शानदार मौका था, लेकिन वे 43 रन ही बना पाए। वे कुल 5 मैचों में 17.60 की औसत से 88 रन ही बना पाए। उनके खराब फॉर्म की वजह से टीम को अच्छी शुरुआत नहीं मिली जिसका नुकसान टीम को हुआ।

डेविड वॉर्नर

टी-20 विश्व कप: 5 ऐसे खिलाड़ी जो उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे 2
ऑस्ट्रेलियाई टीम को पहली बार इस खिताब जीतने के लिए उपकप्तान डेविड वॉर्नर से महत्वपूर्ण योगदान की उम्मीद थी, लेकिन वे इस पर खरे नहीं उतरे। वॉर्नर आईपीएल की वजह से भारतीय मैदानों और परिस्थितियों के अभ्यस्त थे, लेकिन उन्होंने बहुत निराश किया। वे 4 मैचों में 9.50 की औसत से मात्र 38 रन बना पाए। ऑस्ट्रेलिया को सेमीफाइनल में हारना काफी खला होगा, लेकिन अगर गौर किया जाए तो टीम मैनेजमेंट का यह निर्णय कि वॉर्नर मिडिल ऑर्डर में खलेंगे उनके लिए काफी घातक साबित हुआ। अगर यह कहें कि इस निर्णय ने ऑस्ट्रेलिया की हार में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई तो गलत नहीं होगा।

कगिसो रबाडा

टी-20 विश्व कप: 5 ऐसे खिलाड़ी जो उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे 3
केगिसो रबाडा एक ऐसा गेंदबाज था जिससे दक्षिण अफ्रीकी टीम को काफी उम्मीदे थीं, लेकिन आज वह असफल खिलाडि़यों की सूची में शामिल हैं। अगर उनके पिछले एक साल के प्रदर्शन को उठाकर देखा जाए तो वो शानदार रहा है। इस युवा गेंदबाज ने भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और बांग्लादेश के होम ग्राउंड पर बेहतरीन प्रदर्शन किया है। उनकी क्षमता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उन्हें डेल स्टेन और काइल एबोट की पसंद माना जाता है। ऐसा नहीं कि टी-20 विश्व कप में वो सिर्फ विकेट लेने में असफल रहे हो बल्कि उन्होंने रन भी खूब लुटाए। उनका इस टूर्नामेंट में औसत एक ओवर में 10 रन से अधिक रहा है। टी-20 विश्व कप में उन्‍होंने 11.4 ओवर डाले जिसमें उन्होंने 125 रन देकर 5 विकेट लिए हैं।

इयोन मॉर्गन

टी-20 विश्व कप: 5 ऐसे खिलाड़ी जो उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे 4
वैश्विक क्रिकेट में मॉर्गन की गिनती अपारंपरिक बल्लेबाज के रूप में की जाती है। उनकी अगुआई में इंग्लैंड ‍टीम पिछले एक-डेढ़ साल में मजबूत टीम बनकर उभरी और टी-20 विश्व कप के फाइनल तक भी पहुंची। लेकिन मॉर्गन बल्लेबाज के रूप में प्रभावी प्रदर्शन नहीं कर पाए। वे 6 मैचों में महज 13.20 की औसत से 66 रन जोड़ पाए। उनका सर्वाधिक स्कोर 27 रन रहा। वेस्टइंडीज के खिलाफ फाइनल में टीम को कप्तान मॉर्गन से बड़ी पारी की उम्मीद थी, लेकिन उनके निराशाजनक प्रदर्शन से टीम बड़ा स्कोर नहीं बना पाई।

एबी डी’विलियर्स

टी-20 विश्व कप: 5 ऐसे खिलाड़ी जो उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे 5
दक्षिण अफ्रीका के एबी डी’विलियर्स की गिनती दुनिया के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में की जाती है। टी-20 प्रारूप उन्हें पसंद भी आता है, लेकिन कहा जाता है कि वे अपने देश की बजाए आईपीएल में ज्यादा गंभीरता के साथ खेलते हैं। डी’विलियर्स टी-20 विश्व कप में भी उम्मीदों पर खरे नहीं उतर पाए, जिसका खामियाजा उनकी टीम को भुगतना पड़ा। एबी चार मैचों में मात्र 110 रन ही बना पाए। उनकी एकमात्र अच्छी पारी अफगानिस्तान के खिलाफ मुंबई में थी, जहां उन्होंने 64 रन बनाए थे। अन्य तीन मैचों में वे एक बार भी बड़ा स्कोर नहीं बना पाए, इसके चलते द. अफ्रीका सेमीफाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहा।

Related posts