5 अहम कारण, क्यों विदेशी टी-20 लीग खेलना चाहते हैं भारतीय दिग्गज

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

5 अहम कारण, क्यों विदेशी टी-20 लीग खेलना चाहते हैं भारतीय दिग्गज 

5 अहम कारण, क्यों विदेशी टी-20 लीग खेलना चाहते हैं भारतीय दिग्गज
2 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

लगातार खेलने का मौका

धोनी

विदेशी टी-20 लीग में खेलने से एक खिलाड़ी के तौर पर भी भारतीय खिलाड़ी परिपक्व होंगे और उनका विदेशी लीगों में अच्छा खेलने से आत्मविस्वास भी बढ़ेगा.

भारत के पास ऋषभ पंत, पृथ्वी शॉ जैसे कई ऐसे युवा खिलाड़ी है, जिनमे प्रतिभा की कोई कमी नहीं है, लेकिन उन्हें लगातार खेलने का मौका नहीं मिल पाता है. भारतीय खिलाड़ी अगर विदेशी टी-20 लीग खेलेंगे, तो वह परिपक्व हो सकते है और अपना आत्मविश्वाश बढ़ा सकते हैं, जो निश्चित रूप से भारतीय क्रिकेट को फायदा पहुचायेगा.

भारत के खिलाड़ियों को समझने को मिलेगी विदेशी पिचें

5 अहम कारण, क्यों विदेशी टी-20 लीग खेलना चाहते हैं भारतीय दिग्गज 1

बीसीसीआई अगर भारत के खिलाड़ियों को विदेशी टी-20 लीग में खेलने को भेजे, तो भारत के खिलाड़ियों को विदेशी पिचें समझने को मिलेगी. अक्सर देखा गया है, कि भारतीय बल्लेबाज विदेशी पिचों पर संघर्ष करते हुए नजर आते है.

अगर बीसीसीआई भारत के खिलाड़ियों को विदेशी टी-20 लीग खेलने भेजती है, तो इससे भारतीय खिलाड़ियों विदेशी पिचें समझने को मिलेगी और वह भारतीय टीम को ज्यादा से ज्यादा विदेश में मैच जीता पाएंगे.

2 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

Related posts