भारतीय टीम के इन 5 खिलाड़ियों पर मैच फिक्सिंग के चलते लगा चूका है बैन 1
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

विश्व क्रिकेट में मैच फिक्सिंग का आरोप लगना किसी भी खिलाड़ी के लिए शर्मिंदगी भरी हरकत होगी। आप चाहें, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे हो या फिर किसी फ्रैंचाइजी का प्रतिनिधित्व कर रहा हो, खिलाड़ी की जिम्मेदारी बनती है कि वह पूरी ईमानदारी के साथ क्रिकेट खेले और टीम को जीत दिलाने में अपना योगदान दे।

मगर विश्व क्रिकेट ही नहीं बल्कि भारत में भी ऐसे कई खिलाड़ी रहे हैं, जिनपर मैच फिक्सिंग का आरोप लग चुका है। इतना ही नहीं बल्कि ये कहना भी गलत नहीं होगा, कि इस अपराध के चलते मैच फिक्सिंग के आरोप के चलते उनके क्रिकेट करियर पर ग्रहण लग गया।

तो आइए इस आर्टिकल में आपको भारत के उन 5 खिलाड़ियों के बारे में बताते हैं, जिनपर मैच फिक्सिंग के चलते बैन लगाया गया।

      भारत के 5 खिलाड़ियों पर मैच फिक्सिंग के चलते लगा बैन

5- मोहम्मद अहजरुद्दीन

मोहम्मद अजहरुद्दीन

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अहजरुद्दीन भारत के शानदार कप्तानों में से एक रहे। लेकिन उनके क्रिकेट करियर पर एक ऐसा स्पॉट फिक्सिंग का एक ऐसा दाग लगा है, जिसे वह जितना भी चाहें साफ नहीं कर सकते हैं।

अजहरुद्दीन ही नहीं बल्कि ये भारत के लिए भी बेहद शर्म की बात है कि टीम के कप्तान का नाम मैच फिक्सिंग में लिप्त पाया जाए। स्टाइलिश बल्लेबाज को 1990 के दशक में टीम की कमान सौंपी गई। पूर्व कप्तान ना केवल बेहतरीन खिलाड़ी थे बल्कि उनकी कप्तानी में टीम ने अच्छा प्रदर्शन भी किया।

मगर उनके करियर का अंत वाकई निराशाजनक रहा। साल 2000 में, अजहरुद्दीन पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगा था और उनपर बैन लगा दिया गया। लेकिन 12 साल बाद आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय ने उन पर लगे बैन को हटा दिया। हालांकि बैन के चलते क्रिकेट से दूर हुए अजहर ने 2009 में राजनीति में शामिल हो गए।

उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से एक टिकट जीता और उन्हें मुरादाबाद निर्वाचन क्षेत्र से भारतीय संसद सदस्य के रूप में चुना गया। मौजूदा वक्त में पूर्व कप्तान हैदराबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष के पद पर आसित हैं।

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse