2015 में एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों से संन्यास लेने वाले 5 दिग्गज | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

2015 में एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों से संन्यास लेने वाले 5 दिग्गज 

लम्बे अरसे से अपनी राष्ट्रिय टीम में योगदान देने के बाद साल 2015 में कई दिग्गज खिलाडियों ने एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों से संन्यास लिया है .बहरहाल कुछ प्रतिभाशाली खिलाड़ियों ने विश्व कप 2015 के बाद से वनडे को अलविदा कह दिया. आइये देखते है कौन है वो दिग्गज खिलाडी –

2015 में एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों से संन्यास लेने वाले 5 दिग्गज  1

1. कुमार संगकारा (श्रीलंका)
कुमार संगकारा ने वर्ष 2000 में पाकिस्तान के खिलाफ अपना पहला  एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था. और अपने वन डे करियर में वे कुल 404 मैच खेल चुके हैं जिनमे से उनका अधिकतम स्कोर 169 रहा. वह अपनी टीम के एक दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज़ थे. विश्व कप 2015 के क्वार्टर फाइनल में हार के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उन्होंने अपना अंतिम एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेला. साथ ही अगस्त में भारत के खिलाफ 2 टेस्ट मैच खेलने के बाद वे टेस्ट से भी संन्यास ले लेंगे .

2. महेला जयवर्धने (श्रीलंका)
श्रीलंकाई टीम के एक और महान बल्लेबाज़ महेला जयवर्धने .! 1998 में जिम्बाब्वे के खिलाफ अपना पहला एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले इस खिलाडी ने कुल 448 वन डे खेले हैं जिसमे उनका उच्चतम स्कोर 144 रहा. बढ़िया बल्लेबाज़ होने के साथ साथ वह 218 कैच लेने वाले एक उत्कृष्ट क्षेत्ररक्षक भी थे. इन्होने ने भी 2015 विश्व कप में क्वार्टर फाइनल में हार के बाद दक्षिण के खिलाफ अपना अंतिम एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेला. वहीँ कोलंबो में पाकिस्तान के खिलाफ पिछले साल वे टेस्ट मैच क्रिकेट को भी अलविदा कर चुके हैं.

3. मिस्बाह उल हक (पाकिस्तान)
2002 में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ अपने एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय खेल की शुरुवात करने वाले खिलाडी मिस्बाह भी खेल के इस प्रारूप को छोड़  चुके हैं, विश्व कप 2015 में क्वार्टर मैच हारने के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने अंतिम एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेला. कुल 162 वनडे में उनका अधिकतम स्कोर 96 * रहा.

4. शाहिद अफरीदी (पाकिस्तान)
कुल 398 वनडे मैच खेलने वाले पाकिस्तान के दिग्गज खिलाडी शाहिद अफरीदी भी इस साल एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय खेल से सन्यास ले चुके हैं . 1996 में केन्या के खिलाफ उन्होंने अपना पहला एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था. इस दौरान उनका अधिकतम स्कोर 124 रहा. बेहतरीन बल्लेबाज़ के अलावा वे एक उत्कृष्ट स्पिन गेंदबाज भी थे जिन्होंने कुल 395 विकेट झटके थे.

5. माइकल क्लार्क ( ऑस्ट्रेलिया)
2003 में इंग्लैंड के खिलाफ अपने एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय खेल की शुरुवात करने वाले माइकल भी इस प्रारूप को अलविदा कह गए.अपने  245 एक दिवसीय खेले गए मैचों में उनका अधिकतम स्कोर 130 रहा. वे एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय टीम के कप्तान थे और अब वह टेस्ट टीम के कप्तान की भूमिका निभा रहे हैं. 

Related posts

Leave a Reply