5 सकारात्मक बातें जो भारतीय टीम को बॉर्डर-गावस्कर सीरीज से मिली
Connect with us

क्रिकेट

AUSvsIND: 5 सकारात्मक बातें जो भारतीय टीम को बॉर्डर-गावस्कर सीरीज से मिली

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 2-1 से हारकर टेस्ट सीरीज पर कब्जा कार लिया है। एडिलेड में खेले गये पहले मैच को टीम इंडिया ने 31 रनों से अपने नाम किया था। उसके बाद पर्थ टेस्ट में वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया की टीम ने उसे अपने नाम कर लिया। मेलबर्न में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को एकतरफा मात देकर सीरीज अपने नाम कर लिया।

सिडनी टेस्ट बारिश की वजह से ड्रा रहा और भारत ने सीरीज अपने नाम कर लिया। इस सीरीज में भारतीय टीम को काफी सकरात्मक बातें मिली। आईये उन्हीं के बारे में बताते हैं।

#5 स्पिनरों ने किया प्रभावित

अनिल कुंबले और हरभजन सिंह के बाद भारतीय टीम के स्पिन गेंदबाज एशिया से बाहर लगातार फ्लॉप हो रहे थे। यही वजह है कि टीम को लगातार हार मिल रही थी। इस सीरीज में पहले रविचंद्रन अश्विन और फिर कुलदीप यादव और रविन्द्र जडेजा के प्रदर्शन ने भारत को सीरीज जीतने में मदद की।

#4 मयंक अग्रवाल का प्रदर्शन

भारत के लिए घर से बाहर सलामी बल्लेबाज एक बड़ी समस्या थी। टीम के तीन प्रमुख सलामी बल्लेबाज केएल राहुल, मुरली विजय और शिखर धवन लगातार फ्लॉप हो रहे थे।

मेलबर्न टेस्ट में भारतीय टीम में मयंक अग्रवाल को मौका मिला और उन्होंने 3 पारियों में 195 रन बनाकर टीम का सिर दर्द काफी कम कर दिया।

#3 ऋषभ पन्त की कीपिंग

भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पन्त बल्ले से तो लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन उनकी विकेटकीपर पर काफी सवाल खड़े हो रहे थे। इस सीरीज में उन्होंने इस सीरीज में जरुर कुछ कैच छोड़े लेकिन बाई के रन न के बराबर दिए। टीम के लिए यह अच्छी खबर है।

#2 विराट कोहली की कप्तानी

भारतीय कप्तान विराट कोहली शानदार बल्लेबाज हैं लेकिन उनकी कप्तानी पर लगातार सवाल खड़े हो रहे थे। उन्होंने इस सीरीज में कुछ ऐसे फैसले लिए जिससे साबित हो गया कि वह एक शानदार कप्तान हैं। इस सीरीज में उनकी फील्ड प्लेसिंग की दुनिया कायल हो गयी है।

#1 चेतेश्वर पुजारा की बल्लेबाजी

भारतीय टीम के नंबर 3 टेस्ट बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा एशिया से बाहर लगातार फ्लॉप हो रहे थे। उन्हें कई बार टीम से ड्राप भी कर दिया गया। पिछले इंग्लैंड दौरे के पहले मैच में भी उन्हें बाहर कर दिया था।

इस सीरीज में वह भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। 4 मैच में तीन शतक की मदद से उन्होंने 521 रन बनाये। इस सीरीज में उन्हें दो मैन ऑफ द मैच समेत मैन ऑफ द सीरीज का अवार्ड मिला।

 

अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया, तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक ये खबर सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें और साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने अब तक हमारा पेज लाइक नहीं किया हैं, तो कृपया अभी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट हम आपको जल्दी पहुंचा सकें।

Must See