5 कारण क्यों महेंद्र सिंह धोनी को नहीं करना चाहिए विश्व कप के बाद संन्यास की घोषणा

Trending News

Blog Post

एडिटर च्वाइस

5 कारण क्यों महेंद्र सिंह धोनी को नहीं करना चाहिए विश्व कप के बाद संन्यास की घोषणा 

5 कारण क्यों महेंद्र सिंह धोनी को नहीं करना चाहिए विश्व कप के बाद संन्यास की घोषणा

क्रिकेट के जानकार एमएस धोनी का यह अंतिम विश्व कप मान रहे है. मीडिया रिपोर्ट्स और लोगो का कहना है, कि विश्व कप 2019 के बाद एमएस धोनी क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे, लेकिन आज हम आपकों अपने इस ख़ास लेख में वह पांच कारण बताएंगे, जिनके चलते कहा जा सकता है, कि एमएस धोनी को विश्व कप 2019 के बाद संन्यास नहीं लेना चाहिए.

शानदार फिटनेस 

एमएस धोनी भले ही 38 साल की उम्र के हो, लेकिन उनकी फिटनेस 20 साल के युवा खिलाड़ी जैसी है. वह मैदान पर काफी तेज दौड़ते हैं और उनकी विकेटकीपिंग भी काफी शानदार है. उनकी उम्र उनकी फिटनेस पर हावी होती हुई बिल्कुल नहीं दिख रही है, उनकी शानदार फिटनेस को देखते हुए कहा जा सकता है, कि उनके संन्यास का यह सही समय नहीं है.

कमजोर हो जायेगा मध्यक्रम

अगर एमएस धोनी भारतीय टीम से जाते हैं, तो भारत का मध्यक्रम बहुत कमजोर हो जायेगा. पिछले दो साल से भारतीय टीम को मध्यक्रम की परेशानी चल रही है.

धोनी के अलावा मध्यक्रम में कोई भी बल्लेबाज अच्छा नहीं कर पा रहा है. ऐसे में अगर धोनी भी संन्यास लेते हैं, तो भारतीय टीम का मध्यक्रम और ज्यादा कमजोर हो जायेगा. भारतीय टीम के मध्यक्रम को अभी 1-2 साल तक और धोनी की जरुरत है.

भारतीय टीम को चाहिए सलाहकार

एमएस धोनी भारतीय टीम के सलाहकार भी है. वह जूनियर खिलाड़ियों को काफी अच्छी सलाह देते हैं. मैदान पर भी देखा गया है, विकेट के पीछे से धोनी गेंदबाजों को मदद करते रहते हैं और कप्तान विराट कोहली को भी जरुरत पढ़ने पर सलाह देते हैं.

अगर वह संन्यास लेंगे, तो भारतीय टीम अपना एक बहुत सलाहकार खो देगी, इसलिए जब तक भारतीय टीम को एक अच्छा सलाहकार नहीं मिल जाता, तब तक भारतीय टीम के लिए एमएस धोनी खेलते रहते हैं, तो भारत के लिए काफी अच्छा है.

शानदार विकेटकीपिंग करने वाला तैयार नहीं हैं विकेटकीपर

एमएस धोनी की शानदार विकेटकीपिंग के बारे में सभी जानते हैं. वह बिजली से भी तेज रफ़्तार से स्टंपिंग करने की क्षमता रखते हैं. साथ ही उनकी कैचिंग भी अच्छी है.

उनके बैक-अप के तौर पर देखें जा रहे ऋषभ पंत की विकेटकीपिंग इतनी ख़ास नहीं है. वह अभी विकेटकीपिंग के लिए पूरी तरह से तैयार नहीं दिख रहे हैं. ऐसे में धोनी को एक-दो साल और खेलना चाहिए. तब तक ऋषभ पंत भी अपनी विकेटकीपिंग में सुधार कर लेंगे.

पास है टी-20 विश्व कप 

Date and Venue of T-20 2020 worldcup

2020 में टी-20 विश्व कप खेला जाना है, जो ऑस्ट्रेलिया की धरती में खेला जायेगा. टी-20 विश्व कप को अब सिर्फ एक साल का समय ही शेष रह गया है. ऐसे में अगर एमएस धोनी इस टी-20 विश्व कप के बाद संन्यास लेते हैं, तो काफी बेहतर होगा. एमएस धोनी के टी-20 विश्व कप टीम में रहने से भारतीय टीम काफी मजबूत लगेगी और विश्व कप की प्रबल दावेदार टीम भी होगी.

Related posts