6 players of the cricket have proved 'Lucky Charm' for their respective teams

अगर कोई व्यक्ति मेहनत करता है तो सफलता उसके कदम जरूर चूमती है। क्रिकेट (Cricket) जगत में कई ऐसे खिलाड़ी आए और गए जिन्होंने सफलता तो हासिल की ही साथ ही साथ उन्होंने अपनी-अपनी टीमों को आसमान की नई बुलंदियों तक पहुँचाया। हालांकि, ये सब एक दिन में ही नहीं हो गया बल्कि इसके लिए सालों मेहनत करनी पड़ती है।

आप दुनिया भर के क्रिकेटरो की लिस्ट उठा कर देख लें तो सभी ने अपनी-अपनी जगह पर बहुत मेहनत की है और शायद यही कारण है कि उनका नाम क्रिकेट (Cricket) के इतिहास के पन्नों में दर्ज है। अपनी टीम के लिए डेब्यू करना हर खिलाड़ी का सपना होता है। कुछ खिलाड़ी ऐसे भी होते हैं जो अपने साथ टीम के लिए भी अच्छे किस्मत लेकर आते हैं। ऐसे में आज हम आपको उन 6 खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जिनके डेब्यू करने के बाद टीम को लगातार जीत मिलनी शुरू हो गई।

कोलिस किंग

Collis King
इस लिस्ट में छठा नाम वेस्टइंडीज के पूर्व खिलाड़ी कोलिस किंग (Collis King) का है जिनके डेब्यू करने के बाद विंडीज टीम ने लगातार 12 मैचों में जीत हासिल की है। यह खिलाड़ी अपनी टीम के लिए लकी चार्म साबित हुआ है। बता दें कि उन्होंने 27 मैच खेले और 698 रन बनाये। इस दौरान उनके बल्ले से 1 शतक और 3 अर्धशतक भी निकला। वहीं, गेंदबाजी में उन्होंने 14 विकेट भी चटकाए हैं।

शांतनु वशिष्ठ

Shantanu Vashisht

इस लिस्ट में पांचवां नाम रोमानिया के खिलाड़ी शांतनु वशिष्ठ (Shantanu Vashisht) का जिनके डेब्यू करने के बाद इस टीम को लगातर 13 मैचों में जीत हासिल हुई है। वहीं, इस खिलाड़ी के करियर की अगर हम बात करें तो उन्होंने टी20 इंटरनेशनल मैच में 17 मुकाबले खेले हैं और 5.52 के शानदार इकॉनमी से 16 विकेट हासिल किये हैं।

डेविड मिलर

David Miller

इस लिस्ट में चौथा नाम दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज खिलाड़ी डेविड मिलर (David Miller) का है जिनके डेब्यू करने के बाद अफ्रीका की टीम ने लगातर मैच जीते हैं। मिलर का नाम दुनिया के दिग्गज फिनिशरों की लिस्ट में शुमार है। उनके डेब्यू करने के बाद दक्षिण अफ्रीका की टीम को लगातार 13 मैचों में जीत हासिल हुई। बता दें कि डेविड मिलर अब तक 250 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेल चुके हैं और इस दौरान उन्होंने कुल 5,483 रन बनाये हैं, जिसमें 6 शतक और 22 अर्धशतक शामिल है।

सात्विक एन

Satwik Nadigotla

सात्विक एन (Satvik N) एक रोमानियाई खिलाड़ी हैं जिनके इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करने और प्लेइंग 11 में मौका मिलने के बाद इस टीम ने लगातार मुकाबले जीते हैं। सात्विक के डेब्यू करने के बाद रोमानिया ने लगातार 15 मुकाबलों में जीत हासिल की है। यह खिलाड़ी रोमानिया के लिए अब तक 18 टी20 इंटरनेशनल मैच खेल चुका है और इस दौरान उन्होंने 121.34 के स्ट्राइक रेट की मदद से 199 रन बनाये है, जिसमें एक अर्धशतक भी शामिल है।

दीपक हुड्डा

Deepak Hooda

इस लिस्ट में दूसरा नाम भारत के हरफनमौला खिलाड़ी दीपक हुड्डा (Deepak Hooda) का है। इस खिलाड़ी के टी20 में डेब्यू करने के बाद भारत एक भी मैच नहीं हारा। हुड्डा 18 टी20 इंटरनेशनल मैचों में हिस्सा लिया और इन सभी मैचों में भारत को जीत हासिल हुई।
यह खिलाड़ी भारत के लिए अब तक कुल वनडे और टी20 को मिलकर 20 मैच खेल चुका है और इस दौरान हुड्डा के बल्ले से कुल 434 रन निकले हैं, जिसमें 1 शतक भी शामिल है जबकि गेंदबाजी करते हुए उन्होंने 4 विकेट चटकाए हैं।

मनीष पांडे

Manish Pandey

इस लिस्ट में पहला नाम मनीष पांडे (Manish Pandey) जिनके डेब्यू के बाद से भारत ने एक भी टी20 मैच नहीं हारा। डेब्यू करने के बाद से ही यह खिलाड़ी भारत के लिए लकी चार्म खिलाड़ी बन गया। मनीष पांडे 2018 से लेकर दिसंबर 2020 तक टीम इंडिया की प्लेइंग 11 का हिस्सा थे और इस दौरान भारत को एक मैच में भी हार का समाना नहीं करना पड़ा।

टीम इंडिया ने लगातर 19 टी20 इंटरनेशनल मैचों में जीत हासिल की। इस खिलाड़ी के टी20 इंटरनेशनल करियर की बात करें तो उन्होंने 39 मैच खेले है और 126.16 के स्ट्राइक रेट की मदद से 709 रन बनाये हैं जिसमें 3 अर्धशतक भी शामिल हैं।