एबी डिविलियर्स ने अपने साथ या खिलाफ खेले गए तीन सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों का नाम बताया

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

एबी डिविलियर्स, सचिन और धोनी नहीं इन 3 खिलाड़ियों को माना सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज, तो इन्हें बताया भविष्य का सुपरस्टार 

एबी डिविलियर्स, सचिन और धोनी नहीं इन 3 खिलाड़ियों को माना सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज, तो इन्हें बताया भविष्य का सुपरस्टार

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान एबी डिविलियर्स ने अपना बिग बैश डेब्यू कर लिया है। उन्होंने ब्रिसबेन हीट के लिए एडिलेड स्ट्राइकर्स के खिलाफ अपना पहला मैच खेला। इस मैच में उनके बल्ले से 40 रनों की पारी निकली। 2018 में इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा करने वाले एबी की गिनती दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में की जाती है।

फॉर्म पर दिया बयान

एबी डिविलियर्स, सचिन और धोनी नहीं इन 3 खिलाड़ियों को माना सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज, तो इन्हें बताया भविष्य का सुपरस्टार 1

एबी डिविलियर्स ने ब्रिसबेन हीट की टीम में टॉम बेंटन की जगह पर शामिल किया गया है। उन्होंने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की आधिकारी बेवसाइट को दिए इंटरव्यू में अपने फॉर्म के बारे में बात की। उन्होंने उम्मीद जताई कि वह टॉम बैंटन की जगह भरने में सफल रहेंगे। उन्होंने अपने फॉर्म के बारे में बात करते हुए कहा

“मैंने अपने करियर के कुछ बेहतरीन फॉर्म में महसूस किया। उम्मीद है, हम इस टूर्नामेंट में अधिक देखेंगे। मुझे पता है कि टीम में खेलने के लिए मुझे किस चीज की आवश्यकता है। इस सीज़न में हीट से कुछ प्रदर्शन हुए हैं और मुझे लगता है कि टीम वास्तव में अच्छी जगह है। टॉम बैंटन ने शानदार काम किया। मुझे उम्मीद है कि मैं मध्यक्रम में उसे आगे बढाना चाहूंगा।”

तीन बल्लेबाजों का नाम बताया

एबी डिविलियर्स, सचिन और धोनी नहीं इन 3 खिलाड़ियों को माना सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज, तो इन्हें बताया भविष्य का सुपरस्टार 2

एबी डिविलियर्स से तीन सबसे सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के बारे में पूछा गया, वह जिसके खिलाफ या फिर साथ खेले हैं। उन्होंने इसमें अपने पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ, ऑस्ट्रेलिया के स्टीवन स्मिथ और भारतीय कप्तान विराट कोहली का नाम लिया। इस बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा

“अपनी तकनीक में बहुत सीमित है, लेकिन स्टीव स्मिथ एक अद्भुत प्रवृति का रास्ता ढूंढते हैं। ग्रीम स्मिथ, स्मिथों के बारे में कुछ है। ग्रीम स्मिथ सबसे शानदार खिलाड़ी नहीं थे, लेकिन उन्होंने टीम के लिए खेला और हमेशा एक बयान देना चाहते थे। विराट कोहली भी ऐसे ही हैं। आप जिस तरह के खिलाड़ी से मैदान पर बात नहीं करते हैं। ”

Related posts