ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछड़ चुकी भारतीय टीम को गिलक्रिस्ट ने दी बराबरी करने का टिप्स | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछड़ चुकी भारतीय टीम को गिलक्रिस्ट ने दी बराबरी करने का टिप्स 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछड़ चुकी भारतीय टीम को गिलक्रिस्ट ने दी बराबरी करने का टिप्स

पुणे टेस्ट में अॉस्ट्रेलिया ने भारत को 333 रनों से हराया और दोनों पारियों में भारतीय बल्लेबाजों को 100 रनों पर अॉल आउट किया. स्टीव ओकीफ ने 12 विकेट लेकर भारतीय बल्लेबाजों की एक ना चलने दी और भारत 2012 के बाद पहली बार भारत में हारा. इस नतीजे ने सभी को चौका दिया वहीं एडम गिलक्रिस्ट अॉस्ट्रेलिया की इस जीत से काफी खुश हैं. गिलक्रिस्ट ने सचिन के साथ मनाया अपना 45वां जन्मदिन

एडम गिलक्रिस्ट ने कहा, कि “बैंगलोर का पिच हमेशा अच्छा होता हैं, जिस पर बल्लेबाज और गेंदबाज दोनों के लिए समान मदद रहती हैं. पुणे जैसी पिच पर टॉस की भुमिका अहम रहती हैं. अगर भारतीय टीम ने फिर से वैसी पिच बनाई और टॉस हारा तो ये भारत के लिए ही बुरी खबर होगी. ये भारतीय टीम अच्छे पिचों पर जीतने की काबिलियत रखती हैं और इस टीम को पुणे जैसी पिच की कोई जरूरत नहीं हैं.”

गिलक्रिस्ट ने कहा, कि “मैनें तीन दिन में मैच खत्म होगा ऐसा सोचा भी नहीं था. मैट रेनशॉ और पीटर हैन्डस्कॉब ने जिस तरह से खुद को तैयार किया और प्रदर्शन किया वो कमाल का था. ये भारतीय टीम अभी भी इस सीरीज में जोरदार वापसी करेगी.” राहुल द्रविड़ की कड़ी मेहनत ने उन्हें सचिन तेंदुलकर के करीब लाया : लक्षमण

गिलक्रिस्ट ने गांगुली और हरभजन ने की भविष्यवाणी पर कहा, कि

“सभी ऐसा ही करते हैं. ग्लेन मैग्राथ भी हमेशा ऐसा ही करते हैं. मैं कभी भी ऐसी भविष्यवाणी नहीं करता और जो भी टीम के खिलाफ ये बात करता हैं उस टीम को तैयारी करने में काफी फायदा होता हैं.”

उन्होंने कहा, कि “विराट कोहली विश्वस्तरीय बल्लेबाज हैं और मैं उनका फैन हूं. मगर हमेशा विराट अच्छा नहीं कर सकते, जिस वजह से दूसरे बल्लेबाजों को भी जिम्मेदारी लेनी होगी. रविचंद्रन अश्विन भी कमाल के फॉर्म में हैं, लेकिन अॉस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने उनके खिलाफ प्लान बना लिया हैं.” भारतीय टीम के लिए अहम खिलाड़ी सिद्ध हो सकते हैं ऋषभ पन्त : गांगुली

उन्होंने कहा, कि “स्टीव ओकीफ काफी शानदार गेंदबाज हैं और उन्होंने न्यू साउथ वेल्स के लिए काफी अच्छा प्रदर्शन भी किया हैं. उनको पहले ज्यादा मौका नहीं मिला, लेकिन उन्होंने सभी को करारा जवाब दिया हैं.”

Related posts