टेस्ट दर्जा हासिल करने के बाद अफगान क्रिकेट बोर्ड ने भारत की मदद से एक और बड़ा कदम उठाया | Sportzwiki

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

टेस्ट दर्जा हासिल करने के बाद अफगान क्रिकेट बोर्ड ने भारत की मदद से एक और बड़ा कदम उठाया 

टेस्ट दर्जा हासिल करने के बाद अफगान क्रिकेट बोर्ड ने भारत की मदद से एक और बड़ा कदम उठाया

एशिया की सबसे उभरती टीम अफगानिस्तान पिछले कुछ सालों से विश्व क्रिकेट में अपना लोहा मनवा रही है। अफगानिस्तान की टीम सीनियर टीम ने पिछले कुछ सालों में अपने प्रदर्शन से पूरे क्रिकेट जगत का ध्यान अपनी ओर खींचा है। अफगानिस्तान की सीनियर टीम के कई सितारें अपनी छाप छोड़ने में कामयाब हो होे रहे है इसी बीच अफगानिस्तान की अंडर-19 टीम भी इसी राह पर चलने के लिए जूट गई है।

PC: GOOGLE

अफगान अंडर-19 टीम भी भारत में करेगी तैयारी

ये तो हम सभी जानते हैं कि अफगानिस्तान की  क्रिकेट टीम को विकसित कराने में भारत भी मदद के लिए आगे आ गया है। अफगानिस्तान की सीनियर क्रिकेट टीम इसी सील की शुरूआत में भारत में अपनी मेजबानी में मैच खेलना शुरू कर दिया है। अब साथ ही साथ अफगानिस्तान की अंडर-19 टीम भी अपनी तैयारी के लिए भारत की सरजमीं पर तैयारी करने के लिए आएगी।अफगानिस्तान टीम को बीसीसीआई ने किया टेस्ट दर्जा दिलाने में काफी मदद और अब अफगानिस्तान ने भारत को दी चुनौती

PC: GOOGLE

अंडर -19 विश्वकप के क्वालिफायर के लिए करेगी चैन्नई में तैय़ारी

आईसीसी अंडर-19 विश्व कप के लिए क्वालिफायर मैच अगले महीनें सिंगापुर में होने जा रहे हैं। इसी को लेकर अफगानिस्तान की अंडर-19 टीम तमिलनाडू की राजधानी चैन्नई में ट्रेनिंग के लिए आएगी। अफगानिस्तान की अंडर-19 टीम चैन्नई में श्री रामचन्द्र मेडिकल क़ॉलेज केंपस में स्थित सीएसएस व्हाटमोर क्रिकेट सेंटर में प्रशिशण शुरू करेगी। अफगानिस्तान की सीनियर टीम तो भारत में उत्तर प्रदेश के नोएडा को अपना घरेलु मैदान बनाया है लेकिन अफगानिस्तान की अंडर-19 टीम को चैन्नई में भेजने का सबसे बड़ा कारण चैन्नई की मिली-जुली परिस्थिति है।

PC: GOOGLE

सुविधाएं और परिस्थिति के लिए चुना चैन्नई

अफगानिस्तान की अंडर-19 क्रिकेट टीम का चैन्नई में तैयारी के लिए आने को लेकर तमिलनाडू क्रिकेट टीम के पूर्व कोच संजय ने पीटीआई से बातचीत करते हुए कहा कि “अफगान बोर्ड ने चैन्नई के सीएसएस व्हाटमोर क्रिकेट सेंटर को इसिलिए चुना क्योंकि यहां की सुविधाएं बहुत ही अच्छी हैं और साथ ही यहां कि परिस्थितियां सिंगापुर से मिलती-जुलती हैं। जहां पर विश्वकप के क्वालिफायर मैच होने हैं। अफगानिस्तान के खिलाड़ी यहां पर नेट अभ्यास करने के साथ ही बीच के विकेट पर अभ्यास भी करेंगे। साथ ही वो इस दौरान कुछ अभ्यास मैच भी खेलेंगे। रिपोर्ट के अनुसार अफगान अंडर-19 टीम यहां के सैकैंड डिविजन के खिलाड़ियों के साथ मैच भी खेलेगी।”शानदार प्रदर्शन कर रहे अफगानिस्तान के इन खिलाड़ियों का बचपन गुजरा है रिफ्यूजी कैम्प में

PC: GOOGLE

Related posts