भगवान के बल्ले से खेली थी शाहिद अफरीदी ने क्रिकेट के इतिहास सबसे धमाकेदार पारी | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भगवान के बल्ले से खेली थी शाहिद अफरीदी ने क्रिकेट के इतिहास सबसे धमाकेदार पारी 

भगवान के बल्ले से खेली थी शाहिद अफरीदी ने क्रिकेट के इतिहास सबसे धमाकेदार पारी

बूम-बूम अफरीदी के नाम से मशहूर पाकिस्तान के ऑलराउंडर क्रिकेटर शाहिद अफरीदी ने आज से बीस साल पहले सबसे तेज शतक लगाया था और जिससे बल्ले से उन्होंने शतक बनाया था, वो आज भी एक इतिहास हैं और उसके के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं.

पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी ने  37 गेंदों में शतक लगा कर दुनिया में धमाल मचा दिया था । लेकिन बाद में यह पता चला था, कि उन्होंने वकार यूनुस के बल्ले से शतक बनाया था. इसके बाद वकार ने उन्हें बतया था, ये बल्ला उन्हें क्रिकेट के भगवान सचिन ने दिया हैं.

पाकिस्तान के इस विस्फोटक ओपनर ने 20 साल 6 महीने पहले 4 अक्टूबर 1996 को नैरौबी में क्रिकेट के इतिहास के सबसे धमाकेदार पारी खेली थी. वो उनके इस रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए 17 साल लग गए.  जेम्स एंडरसन को सचिन या सहवाग से नहीं बल्कि इन दो बल्लेबाजों से लगता था गेंदबाज़ी करते समय डर

मात्र 16 साल की उम्र में आफरीदी ने श्रीलंका के खिलाफ 37 गेंदों में सेंचुरी बनाकर वनडे में सबसे तेज सेंचुरी बनाने का कारनामा किया था। आफरीदी की इस रिकॉर्डतोड़ सेंचुरी की मदद से पाकिस्तान ने 371 रन का स्कोर बनाया था, जो उस समय वनडे का दूसरा सबसे बड़ा स्कोर था। इस मैच में पाक ने श्रीलंका को 82 रनों से मात दी थी। शाहिद आफरीदी ने गेंदबाजी में एक विकेट भी लिया था।

अफरीदी का ये रिकॉर्ड कोरी एंडरसन ने तोडा था, उन्होंने सिर्फ 36 गेंदों में शतक बनाया था.  उनके इस रिकॉर्ड को मिस्टर. 360 के नाम मशहूर एबी डिविलियर्स ने तोडा था, उन्होंने वेस्ट इंडीज के खिलाफ सिर्फ 31 गेंदों में शतक बनाया था. जो अभी तक कायम हैं.  वीरेंद्र सहवाग को सचिन तेंदुलकर ने दिया ऐसा जवाब, जिससे एक बार फिर दिखी दर्शकों को इनकी जुगलबंदी  

अफरीदी आज कल पाकिस्तानी लीग में खेल रहे हैं. और अपने इंटरनेशनल कैरियर से सन्यास ले चुके हैं.

Related posts