पुजारा का आलोचकों को करारा जबाब | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पुजारा का आलोचकों को करारा जबाब 

लगभग दो साल बाद अपना पहला टेस्ट शतक जमाने के बाद राहत महसूस कर रहे भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने आज इंडिया ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ का आभार व्यक्त किया जिन्होंने उन्हें भरोसा दिलाया कि उनकी तकनीक में कुछ भी गड़बड़ नहीं थी. पुजारा ने नाबाद 135 रन बनाकर प्लेइंग इलेवन में शानदार वापसी की.

उन्होंने ऑस्ट्रेलिया ए के खिलाफ चेन्नई में खेलते हुए द्रविड़ के साथ पर्याप्त समय बिताया था. श्रीलंका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘जब मैं इंडिया ए की तरफ से खेल रहा था तो सबसे अच्छी बात राहुल द्रविड़ ने कही. उन्होंने कहा कि मेरी तकनीक में कुछ भी गड़बड़ नहीं है. उन्होंने मुझे धैर्य बनाये रखने के लिये कहा. उन्होंने मुझे नेट्स पर बल्लेबाजी करते हुए देखा और कहा कि मैं जल्द ही बड़ी पारी खेलूंगा, श्रीलंका में या फिर इंडिया ए के मैचों में. इससे मेरा काफी आत्मविश्वास बढ़ा. ’’

पुजारा ने कहा, ‘‘उनका (द्रविड़) मानना था कि कुल मिलाकर मैंने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया दौरों में अच्छी बल्लेबाजी की थी. बस मैं 30 या 40 के अपने स्कोर को बड़ी पारियों में नहीं बदल पा रहा हूं. इसलिए मैं जो कर रहा था मैं उस पर कायम रहा और जैसा खेलता था वैसा खेलता रहा. ’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कड़ी मेहनत की थी. मैंने अपनी एकाग्रता बनाये रखी. मेरी योजना सरल थी, स्ट्राइक रोटेट करने की कोशिश करना और नई गेंद की चमक उतारना. एक बार जब मैं जम गया तो मैंने अपने शॉट खेलने शुरू कर दिये और अन्य खिलाड़ियों के साथ साझेदारियां निभायी. ’’

 

पुजारा ने अमित मिश्रा (59) की भी तारीफ की जिनके साथ उन्होंने आठवें विकेट के लिये शतकीय साझेदारी की. उन्होंने कहा, ‘‘अमित मिश्रा के साथ साझेदारी वास्तव में महत्वपूर्ण थी. उसने वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी की जिससे हम अभी तक 292 रन बनाने में सफल रहे. उसने दूसरी नयी गेंद का सामना किया जो कि बेहद महत्वपूर्ण था क्योंकि यदि तब हम विकेट गंवा देते तो फिर इस समय स्थिति भिन्न होती. ’’

 

पुजारा ने कहा कि आज के शतक ने उनकी 2013 में जोहानिसबर्ग में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लगाये गये शतक की यादें ताजा कर दी. उन्होंने कहा, ‘‘इस शतक ने मुझे साउथ अफ्रीका के खिलाफ लगाये गये शतक की याद दिला दी जहां मैंने मुश्किल विकेट पर 153 रन बनाये थे. धम्मिका प्रसाद ने आज काफी अच्छी गेंदबाजी की. उसने लगातार अच्छी लाइन से गेंदबाजी की. उसकी रणनीति चौथे स्टंप को निशाना बनाकर गेंदबाजी करने की थी. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘कल हम 30 या 40 रन और जोड़ना चाहेंगे. यह टीम के लिये काफी महत्वपूर्ण होंगे. मैं अभी से दूसरी पारी के बारे में नहीं सोच रहा हूं. हमारे लिये उन्हें जल्द से जल्द आउट करना महत्वपूर्ण होगा. ’’

 
 
 

Related posts

Leave a Reply