This necklace is enough to open the eyes of the team: Raina

आईपीएल की सबसे सफलतम टीमों में से एक चेन्नई सुपर किंग्स 13वें सीजन की शुरुआत करने के लिए तैयार है। इस लीग के इतिहास में 3 बार खिताब को जीतने वाली चेन्नई सुपर किंग्स की टीम से इस बार भी पूरी उम्मीदें लगी हैं। महेन्द्र सिंह धोनी की कप्तानी में खेलने जा रही सीएसके के लिए इस सीजन में टीम के साथ काफी मुश्किलें खड़ी होती रही।

सुरेश रैना आईपीएल को छोड़ लौट आए हैं भारत

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम को सबसे बड़ा झटका तो तब लगा जब उनके अहम बल्लेबाज सुरेश रैना ने अपना नाम वापस ले लिया। सुरेश रैना अचानक से ही पारिवारिक कारणों का हवाला देकर यूएई से भारत लौट आए।

चेन्नई सुपर किंग्स

सुरेश रैना अब इस बार के सीजन में शायद ही खेलते नजर आएंगे। अपने लिए व्यक्तिगत कारणों को बताकर भारत लौटे सुरेश रैना क्या कर रहे हैं इस पर तो हर कोई जानना चाहेगा।

सुरेश रैना हैं एक खास मिशन पर जम्मू-कश्मीर में

आईपीएल जैसे बड़े टी20 लीग के इस सीजन को छोड़कर भारत लौट चुके सुरेश रैना इस समय एक बहुत ही खास तरह के मिशन में लग चुके हैं। वो घर पर नहीं रहने के बजाय इस मिशन के काम में जुट गए हैं।

सुरेश रैना

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना ने हाल ही में अपने इंटरनेशनल करियर को अलविदा कह दिया। रैना इसके बाद आईपीएल में खेलते दिख सकते थे लेकिन उन्होंने वहां से भी नाम वापस ले लिया। अब रैना जम्मू-कश्मीर में एक खास मिशन पर हैं।

जम्मू-कश्मीर में खोलेंगे 10 क्रिकेट ट्रेनिंग स्कूल

उन्होंने जम्मू-कश्मीर में जाकर उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से मुलाकात की और वहां पर 10 क्रिकेट ट्रेनिंग स्कूल खोलने की घोषणा की। राजभवन की ओर से जारी प्रेस रिलीज में कहा गया कि

“उपराज्यपाल के अनुरोध पर मशहूर क्रिकेटर सुरेश रैना कश्मीर डिविजन में पांच स्कूल और जम्मू डिविजन में भी इतने ही ट्रेनिंग स्कूल स्थापित करने के लिए और युवाओं को प्रशिक्षित करने के लिए सहमत हुए हैं।”

सुरेश रैना

इस पर सुरेश रैना ने कहा कि

“जम्मू-कश्मीर के सभी क्षेत्रों से प्रतिभाओं की पहचान कर उनका चयन किया जाएगा। और उन्हें इंटरनेशनल लेवल पर खेलने के लिए तैयार किया जाएगा।”