पिता के गंभीर आरोपों के विपरीत युवराज़ ने लिया कप्तान धोनी का पक्ष

यूवराज के पिता योगराज सिंह ने आज टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पत्रकारों के समक्ष कहा था की  ‘टीम इंडिया के कप्तान धोनी को मेरे बेटे से परेशानी है, वो नहीं चाहते कि मेरा बेटा टीम इंडिया में वापसी कर सके।‘

अपने पिता योगराज के इस गंभीर बयान पर सफाई देते हुए युवराज़ ने ट्वीट कर बताया कि मेरे पिता भावुक हो गए थे और हर माता-पिता की तरह मेरे पिता भी मेरे लिए पेशनएट हैं। जबकि मैंने हमेशा मैंने धोनी  की कप्तानी में खेलना एंज्वॉय किया है और आगे भी करता रहूंगा।

अगर हम धोनी के साथ युवराज का टीम इंडिया में मौजूदगी के दौरान खेले गए मैचो पर नज़र डाले तो उनके पिता का यह कहना सत प्रतिशत सही होगा कि इन दोनों खिलाड़ियों ने मिलकर टीम इंडिया के नब्बे प्रतिशत मैच जीते है।

माना जा रहा है कि यूवराज का इस बार के आईसीसी वर्ल्ड कप में युवराज को टीम इंडिया में जगह न देने की वजह से योगराज भावुकहो गए और अपनी सारी नराजगी उन्होंने कप्तान धोनी पर उतर दी।

नाराज़गी में उन्होंने धोनी के माता पिता को सलाह देते हुए यह तक कह दिया की “वो धोनी को समझाएं कि इस लड़ाई को निजी ना बनाए।”   

हम उम्मीद करते है की युवराज के पिता द्वारा खड़ा किया गया यह

विवाद यहीं थम जाएगा।

Related Topics