दूसरे टेस्ट से पहले इस भारतीय खिलाड़ी के फॉर्म में लौटने पर खुश हैं अजिंक्य रहाणे 1

भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 और वनडे मुकाबला अपने नाम कर लिया. लेकिन इसके बाद वेस्टइंडीज और भारत के बीच खेला गया पहला टेस्ट मुकाबला, जिसमे भारत ने जीत दर्ज़ की, इस मैच से पहले चयन को लेकर काफी आलोचना हुई थी, लेकिन इसके बाद भी टीम के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन दिया और जीत भी अपने नाम किया. इन सभी के बीच अजिंक्य रहाणे ने बताया कि उनको टेस्ट मैच में अपना यह शतक जड़ने के बाद कैसा महसूस हो रहा था.

अजिंक्य रहाणे का शतक

अजिंक्य रहाणे

भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने शानदार शतक बनाया. उन्होंने मैच की पहली पारी में भी उन्होंने 81 रन बनाये थे. पहली पारी में वह भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे.

उन्होंने लंच के ठीक बाद केमार रोच की गेंद पर एक रन लेकर शतक पूरा किया. उनका शतक पूरा होने के बाद कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री की ख़ुशी देखने लायक थी.

अजिंक्य रहाणे ने इससे पहले टेस्ट क्रिकेट में साल 2017 में श्रीलंका के खिलाफ शतक बनाया था. उसके  बाद से उनके बल्ले से कोई शतक नहीं निकला है. वह टेस्ट क्रिकेट में उनका 10वां शतक है.

अपने शतक को लेकर अजिंक्य रहाणे का बयान

अजिंक्य रहाणे

दूसरे टेस्ट से पहले इस भारतीय खिलाड़ी के फॉर्म में लौटने पर खुश हैं अजिंक्य रहाणे 2

वेस्टइंडीज के खिलाड़ अजिंक्य ने 81 और 102 रन की पारी खेले,  जिसके बाद उनको मैन ऑफ़ द मैच का खिताब दिया गया. जिसके बाद उन्होंने अपने इस शतक को लेकर एक बयां दिया जिसमे उन्होंने कहा कि,

“यह शतक मेरे लिए बहुत ख़ास है, मैं बहुत अच्छे से जानता हूँ कि दो साल बाद यह शतक मेरे लिए क्या मायने रखता है, मैंने बल्लेबाजी के लिए बहुत पसीना बहाया है, मैं हर मुकाबले और प्रैक्टिस सेशन से कुछ नया सीखना चाहता हूँ,  मैंने शतक या किसी रिकॉर्ड बनाने के बारे में सोचा भी नहीं था.”

हनुमा विहारी के प्रदर्शन पर जताई ख़ुशी

अजिंक्य रहाणे

हनुमा विहारी पर इस मैच में ज्यादा दबाव था क्योंकि रोहित शर्मा को टीम से निकाल कर उनको जगह दी गई थी, लें वो सबकी उमीदों पर खरे उतरे. हनुमा विहारी और अजिंक्य रहाणे ने पहले टेस्ट की दोनों पारियों में बेहतरीन साझेदारी की थी.

पहली पारी में दोनों ने 82 रन जोड़कर भारत को मुश्किल से निकला था. दूसरी पारी में इन्होने 135 रनों की बड़ी साझेदारी बनाकर विंडीज को मैच से बाहर कर दिया. उनको इस शानदार पारी के बाद अजिंक्य ने कहा कि,

” विहारी ने शानदार पारी खेली, इससे पहले उन्होंने इंडिया ए के लिए भी शानदार पारी खेली, यह बहुत बड़ी बात है कि अगर कोई खिलाड़ी घरेलु क्रिकेट में लगातर शानदार प्रदर्शन देता रहा हो और अंतरराष्ट्रिय क्रिकेट में शानदार पारी की झाकी दिखाई,.”