अजिंक्य रहाणे

भारतीय क्रिकेट टीम और ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के बीच बॉर्डर-गावस्कर सीरीज के चौथे व आखिरी मैच में ऑस्ट्रेलिया के स्पिन गेंदबाज नाथन लॉयन अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहे थे। इस मैच को टीम इंडिया ने 3 विकेट से जीतकर अपने नाम कर लिया और सीरीज को 2-1 से जीत लिया। इसके बाद भारत के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने 100वां टेस्ट मैच खेल रहे  ऑफ स्पिनर को एक अनमोल तोहफा देकर सभी का दिल जीत लिया।

नाथन लॉयन को दी जर्सी

अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में एक तरफ भारतीय क्रिकेट टीम ने 2-1 से ऑस्ट्रेलिया को हराकर सीरीज अपने नाम कर ली। तो वहीं मैच खत्म होने के बाद कप्तान रहाणे ने कुछ ऐसा किया, जिसकी इस वक्त सोशल मीडिया पर चर्चा चल रही है और उनकी सराहना हो रही है।

दरअसल, गाबा टेस्ट मैच नाथन लॉयन अपने टेस्ट करियर का 100वां टेस्ट मैच था। भले ही भारत से टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया को हार का सामना करना पड़ा लेकिन रहाणे ने लॉयन के लिए भारतीय टीम की साइन की हुई जर्सी देकर उनके इस 100वें टेस्ट मैच को यादगार बना दिया। रहाणे द्वारा लॉयन को जर्सी द्वारा बड़ी उपलब्धि के लिए सम्मान देना वाकई ‘स्पिरिट ऑफ क्रिकेट’ की एक झलक थी।

नाथन लॉयन ने लिए हैं 399 टेस्ट विकेट

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के अनुभवी ऑफ स्पिनर नाथन लॉयन ने गाबा टेस्ट मैच में अपना 100वां टेस्ट खेला। आंकड़ों की बात करें, तो लॉयन ने अब तक ऑस्ट्रेलिया के लिए खेले गए 100 मैचों में 32.12 के औसत के साथ 399 विकेट लिए हैं।

गाबा टेस्ट मैच का इतिहास ऑस्ट्रेलिया के लिए काफी अच्छा था, क्योंकि 1988 के बाद से मेजबान टीम ने गाबा में एक भी मैच नहीं गंवाया था। लेकिन आज उनके उस विजयीरथ पर विराम लगा और ऑस्ट्रेलिया की टीम को 3 विकेट से मैच में हार का सामना करना पड़ा। इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया ने बॉर्डर-गावस्कर सीरीज को 1-2 से गंवा दिया।

टी नटराजन के हाथों में दी ट्रॉफी

अजिंक्य रहाणे

भारत ने बॉर्डर-गावस्कर सीरीज को 2-1 से जीतकर ट्रॉफी को अपने पास बरकरार रखा। कप्तान अजिंक्य रहाणे ने एक तरफ अपनी टीम को जीत दिलाई। इसके बाद जब ट्रॉफी के साथ फोटो खिचवाने की बारी आई, तो उन्होंने ट्रॉफी युवा तेज गेंदबाज टी नटराजन के हाथों में दी, ये खिलाड़ियों के बीच के सम्मान को दर्शाता है। नटराजन ने अपने डेब्यू मैच में 3 विकेट झटके।