अश्विन और रहाणे ने किये बेहद ही चौकाने वाले खुलासे, बीसीसीआई करा रही ऐसे काम, नहीं होगा आपको अपने कानो पर यकीन 1

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी शुरू हो चुकी हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दे, कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही यह बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी खेल प्रेमियों के बीच काफी लोकप्रिय और सुप्रसिद्ध हैं. OMG: विराट कोहली के दोहरा शतक लगाने के दौरान सचिन तेंदुलकर को विराट कोहली के बल्ले पर दिखा कुछ ऐसा, कि ट्वीटर द्वारा सबको दी जानकारी

चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला का पहला मुकाबला पुणे के एमसीए, स्टेडियम में खेला जा रहा हैं. पहला टेस्ट मैच शुरू होने से पहले भारतीय टीम के सभी खिलाड़ियों ने टेस्ट सीरीज के प्रायोजक PAY TM के सभी स्ट्रिगर्स पर अपने अपने ऑटोग्राफ किये.

यहाँ देखे विडियो:-

सीरीज के प्रायोजक PAY TM के सभी स्ट्रिगर्स पर अपने अपने ऑटोग्राफ देते हुए भारतीय टीम के स्टार स्पिन गेंदबाज़ रविचंद्रन अश्विन, जयंत यादव और भारतीय टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने अपनी लिखाई और कई रोचक बातों का खुलासा किया. REVEALED: आखिर क्यों लिया रविचंद्रन अश्विन ने मुशफिकुर रहीम का ऑटोग्राफ

टीम के युवा स्पिन गेंदबाज़ जयंत यादव ने कहा, कि ”इतने सारे स्ट्रिगर्स पर ऑटोग्राफ करना किसकी भी चुनौती से कम नहीं हैं. मेरे हिसाब से इसके लिए बहुत सब्र की जरूरत हैं. मैंने अपनी जिंदगी आज से पहले कभी भी इस कार्य का अनुभव नहीं किया. मेरे हस्ताक्षर बेहद आसान हैं.”

दुनिया के नंबर वन स्पिन गेंदबाज़ रविचंद्रन अश्विन ने कहा, कि ”मैं हर स्ट्रिगर्स पर अलग अलह ऑटोग्राफ दूंगा. यही नहीं मेरे ऑटोग्राफ को पहचाना बिलकुल आसान काम नहीं हैं. मुझे याद हैं, मैंने अपने जीवन में सबसे पहले यह काम आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम के लिए किया था. मैंने तब एक साथ 160 स्ट्रिगर्स पर ऑटोग्राफ दिया था. मुझे वाकई में यह काम बड़ा अटपटा लगता हैं.” भारत के खिलाफ शानदार प्रदर्शन के बाद अश्विन से टिप्स लेते नज़र आये मेहदी हसन

अश्विन ने कहा, कि ”एक बार मैंने किसी को ऑटोग्राफ दिया था, लेकिन उस व्यक्ति को वह समझ में नहीं आया और मुझसे कहा, क्या हैं ये!!!… तभी से मैंने अपना ऑटोग्राफ सुधार लिया. अब मैंने काफी अलग अलग तरीके के ऑटोग्राफ करता हूँ. यही नहीं मैं इतने खराब साइन किया करता था, कि मेरी माँ कभी भी मुझे चेक बुक तक साइन नहीं करने देती थी.”

अंत में अजिंक्य रहाणे ने कहा, कि

”मुझे यह काम पसंद हैं, लेकिन मैच से एकदम पहले बिलकुल भी नहीं. मैच शुरू होने से पहले आपका ध्यान सिर्फ मैच के ऊपर होना चाहिए… ना, कि इन कामों पर. पर हाँ ! यह भी जरुरी हैं.”

Akhil Gupta

Content Manager & Senior Writer at #Sportzwiki, An ardent cricket lover, Cricket Statistician.