अजीत आगरकर ने मुख्य चयनकर्ता पद के लिए किया आवेदन 

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

अजीत आगरकर ने मुख्य चयनकर्ता पद के लिए किया आवेदन  

अजीत आगरकर ने मुख्य चयनकर्ता पद के लिए किया आवेदन 

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य चयनकर्ता के रूप में एमएसके प्रसाद का कार्यकाल वार्षिक आम बैठक (एजीएम) के बाद ही समाप्त हो गया है. उनके साथ ही गगन खोड़ा का भी कार्यकाल समाप्त हो गया है. बता दें, कि एमएसके प्रसाद 2016 में मुख्य चयनकर्ता का पद दिया गया था. वह 2015 में चयन समिति में शामिल हो गए थे और एक साल बाद उन्हें मुख्य चयनकर्ता बना दिया गया था.

चयनकर्ता का आवेदन करने के लिए अंतिम तिथि 24 जनवरी

अजीत आगरकर ने मुख्य चयनकर्ता पद के लिए किया आवेदन  1

बीसीसीआई ने राष्ट्रीय चयनसमिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद और उनके सहयोगी गगन खोड़ा की जगह लेने के लिए आवेदन मंगाये हैं. सीनियर चयनसमिति के दो सदस्यों के अलावा महिला चयनसमिति के सभी सदस्यों और जूनियर चयनसमिति में दो बदलाव होने हैं. इसके लिए आवेदन देने की आखिरी तिथि 24 जनवरी है.

यह हालांकि अभी साफ नहीं है कि मदन लाल, गौतम गंभीर और सुलक्षणा नाइक की प्रस्तावित क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) आवेदन देने वाले उम्मीदवारों का साक्षात्कार करेगी या नहीं.

अजीत आगरकर ने किया आवेदन

ajit agarkar on virat

भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज अजीत आगरकर ने मुख्य चयनकर्ता पद के लिए आवेदन किया है. बता दें, कि उन्हें टीम चयन का काफी अनुभव है, क्योंकि वह मुंबई के पूर्व मुख्य चयनकर्ता रह चुके हैं.

अजीत आगरकर ने भारत के लिए 26 टेस्ट, 191 वनडे और 3 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हुए हैं. तीनों फॉर्मेट में मिलकर उन्होंने कुल 349 विकेट हासिल किये हुए हैं.

बीसीसीआई ने की पुष्टि

अजीत आगरकर ने मुख्य चयनकर्ता पद के लिए किया आवेदन  2

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा, “अजीत ने चयनकर्ता पद के लिए प्रवेश किया है. वह एक ऐसा व्यक्ति है, जिसने आवेदन करने से पहले बहुत सोच-विचार किया होगा. अगर किसी ने सोचा था कि चयनकर्ताओं के अध्यक्ष के रूप में शिव का नामा सबसे आगे चल रहा है, तो अब यह और ज्यादा रोमांचक हो गया है.”

वेस्ट जोन के जतिन पारपंजे पहले से ही इस जोन से चयन समिति में है. हालांकि बीसीसीआई अध्यक्ष अब एक जोन के एक चयनकर्ता के पक्ष में नहीं है. उनका मानना है कि एक जोन के एक से अधिक चयनकर्ता भी चयन समिति में काम कर सकते हैं.

अधिकारी ने आगे कहा,  “बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने पहले दिन ही पारदर्शिता के बारे में बात की थी. यदि इरादा सही है और दिल सही जगह पर है, तो हमें ज़ोनल के नियम का पालन करने की आवश्यकता क्यों है?”

 

Related posts