क्रुणाल पांड्या 123

भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाली टी20 सीरीज के लिए भारतीय टीम की घोषणा हो चुकी है। जिसमें अक्षर पटेल को शामिल किया गया है। हालिया टेस्ट सीरीज में बेहतरीन गेंदबाजी के इनाम के तौर पर उन्हें टीम में वरीयता दी गई। लेकिन, ऐसे में किसी और टी20  आलराउंडर खिलाड़ी पर ध्यान ना देना कहीं टीम पर भारी ना पड़ जाए।

यह आलराउंडर खिलाड़ी पहले भी भारत का प्रतिनिधित्व कर चुका है। चयनकर्ताओं द्वारा नजरअंदाज किए जाने के बाद यह खिलाड़ी विजय हजारे ट्रॉफी में बडौदा के लिए खेलते हुए 4 मैचों में दो शतक और दो अर्धशतक के साथ अभी तक 386 रन बना चुका है।

193 की औसत से क्रुणाल ने बनाये हैं रन

क्रुणाल पांड्या

कई बार अपने उम्दा प्रदर्शन से भारतीय टीम को जीत दिलवा चुके आलराउंडर क्रुणाल पांड्या को आगामी टी20 सीरीज के लिए टीम के लिए नहीं चुना गया। वहीं अक्षर पटेल, वाशिंगटन सुन्दर, राहुल तेवतिया जैसे खिलाड़ियों को उन पर तरजीह दी गई। चयनकर्ताओं के नजरअंदाज करने के बाद क्रुणाल पांड्या ने विजय हजारे ट्रॉफी में बड़ौदा की तरफ से खेलते हुए 4 मैचों में दो शतक और दो अर्धशतक जड़े हैं। उन्होंने 193 की औसत से 386 रन बनाए हैं।

क्रुणाल ने 54 चौके और 6 छक्कों के साथ ही 4 विकेट भी झटके हैं। इस दौरान उनका हाइएस्ट स्कोर 133 रन है। इतना ही नहीं वो बड़ोदा के साथ ही विजय हजारे ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की सूची में पहले नंबर पर बने हुए हैं।

उनका ये प्रदर्शन बताता है कि क्रुणाल कितने अच्छे खिलाड़ी हैं। साथ ही वो जबरदस्त फॉर्म में चल रहे हैं। ऐसे में उन्हें टीम में शामिल नहीं करना चयनकर्ताओं का एक गलत फैसला साबित हो सकता है।

टी20 में कर चुके हैं भारत का प्रतिनिधित्व

आलराउंडर खिलाड़ी क्रुणाल पांड्या ने 4 नवंबर, 2018 को कोलकाता में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना पहला टी20 मैच खेला था। उस मैच में क्रुणाल ने 4 ओवर में 15 रन देकर 1 विकेट लिए था। साथ ही 9 गेंदों में 21 रन की तेजतर्रार पारी खेलकर टीम इंडिया की जीत में महत्वपूर्ण योगदान दिया था। बावजूद इसके उनके लिए टीम में स्थाई जगह नहीं बन पाई। लेकिन, अपने 18 टी20 मैचों में उन्होंने 14 विकेट अपने नाम किये हैं। इतना ही नहीं आईपीएल में उनका प्रदर्शन धमाकेदार रहा है।

वो 2016 से मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी हैं और 2017, 2019 और 2020 में मुंबई को विजेता बनाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। फिर भी वो चयनकर्ताओं की नजर में अपनी जगह नहीं बना सके। उन आखिरी टी20 मैच राजकोट में बांग्लादेश के खिलाफ था। उस मैच में क्रुणाल ने सिर्फ दो ओवर ही किए थे। उसके बाद से वो टीम से बाहर ही चल रहे हैं।