रिटायरमेंट से यू-टर्न लेने वाले अंबाती रायडू ने बताए अपने दोहरे मिशन

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

संन्यास से वापस आए अंबाती रायडू ने बताया अब जीवन में सिर्फ ये 2 चीजें हासिल करना ही लक्ष्य है 

संन्यास से वापस आए अंबाती रायडू ने बताया अब जीवन में सिर्फ ये 2 चीजें हासिल करना ही लक्ष्य है

जिंदगी हर किसी को दूसरा मौका देती है बशर्ते आप इस मौके को पहचान कर इसे अपने हिसाब से बना सके। कुछ ऐसा ही मौका मिला है अंबाती रायडू को विश्व कप की टीम में खुद का चयन ने होते देख, आनन-फानन में संन्याल लेने के बाद, दो हफ्ते के भीतर दोबारा फिर से वापसी की। अब इसी वापसी को सफल बनाने की पुरजोर कोशिश में लगे अंबाती रायडू ने मीडिया के सामने बताए अपने दोहरे मिशन।

यू-टर्न लेने के बाद बताई अपनी महत्वकांक्षी योजना

अंबाती नायडू

अंबाती रायडू ने यू- टर्न लेने के बाद अपने खेल जीवन की शुरुआत विजय हजारे ट्रॉफी के लिए हैदराबाद की अगुवाई से की है। उन्होंने कहा मैं इस जिम्मेदारी को लेकर बेहद उत्साहित हूं। उन्होंने कहा कि मैं पुनः वापसी के बाद खुद बेहद उत्साहित महसूस कर रहा हूं।

33 वर्षीय अंबाती ने कहा,

“मैं अपना क्रिकेट को एक नई पहचान देने के लिए खेल रहा हूं, मैं दूसरों के कहे की बिल्कुल परवाह नहीं करता। एक बार जब मैं प्रदर्शन करता हूं तो मैं सिर्फ अपने अच्छे खेल के बारे में सोच रहा होता हूं।”

अंबाती नायडू

उन्होंने अपने मिशन के बारे में बताते हुए कहा कि इस समय मै अपने दोहरे मिशन पर बेहद फोकस होकर खेलना चाहता हूं। पहला मैं अपने टैंलेट को बढ़ाना चाहता हूं, दूसरा मैं अपने आप को दुनिया के सामने अभिव्यक्त  करना चाहता हूं।

उन्होंने कहा कि जब मैंने रिटायरमेंट लिया तो वह समय मेरे लिए बेहद कठिनाईंयों से भरा हुआ था, लेकिन अब सब कुछ ठीक हो चुका है।

चयनकर्ता और लक्ष्मण की वजह से किया वापसी

अंबाती नायडू

हैदराबाद के चयनकर्ता नियोल डेविड ने कहा है कि, “रायडू में अभी पांच साल की क्रिकेट बाकी है.”

विजय हजारे ट्रॉफी इस महीने के अंत में शुरू हो रही है. इसी को देखते हुए उन्होंने कहा कि रायडू का चयन वर्ल्ड कप में नहीं हो पाया जिससे वो थोड़े निराश हो गए.

उन्होंने आगे कहा कि

“मैंने और लक्ष्मण ने उनसे बात की और कहा कि उनमें अभी काफी क्रिकेट बाकी है और वो ऐसा न करें। इसलिए उन्हें वापसी करनी चाहिए। अपने राज्य के लिए खेलना चाहिए और फिर इसके बाद नेशनल टीम में वापसी करनी चाहिए. उनके अनुभव से युवाओ को फायदा होगा तो वहीं हैदराबाद टीम को भी फायदा होगा.”

Related posts