अनिल कुंबले हो सकते हैं भारतीय टीम के नए कोच : सूत्र | Sportzwiki

Trending News

Blog Post

करेंट इवेंट

अनिल कुंबले हो सकते हैं भारतीय टीम के नए कोच : सूत्र 

अनिल कुंबले हो सकते हैं भारतीय टीम के नए कोच : सूत्र


टेस्ट क्रिकेट में भारत के ओर से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़, अनिल कुंबले, सूत्रों के अनुसार भारतीय टीम के नए कोच हो सकते है, जिसकी अधिकारिक घोषणा 24 जून को होगी.

क्रिकेट सलाहकार समिति में शामिल सौरव गांगुली, वीवीएस लक्ष्मण और सचिन तेंदुलकर, महान स्पिन गेंदबाज़ और टीम में लम्बे समय तक साथी रहे अनिल कुंबले से काफी प्रभावित हैं.
अनिल कुंबले, भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के प्रमुख हथियार माने जाते थे. लेग-स्पिनर कुंबले ने कई अहम मौको पर भारत को बड़ी जीत दिलाई हैं. कुंबले का दिल्ली की फ़िरोज़ शाह कोटला मैदान पर पाकिस्तान के 10 विकेट हासिल करना अब भी एक विश्व रिकॉर्ड हैं.

भारतीय कोच पद के लिए 57 उम्मीदवारों ने आवेदन किया था. लेकिन बाद में बीसीसीआई ने यह कहकर ट्विस्ट बढ़ा दिया कि हिंदी भाषा जानने वाले उम्मीदवार पहली पसंद हो सकते हैं, हालाँकि बीसीसीआई ने बाद में कहा कि यह वैकल्पिक हैं.

सोमवार को बीसीसीआई ने 21 उम्मीदवार छांटे, जिसमे से 10 उम्मीदवारों को पहले चरण के इंटरव्यू के लिए चुना गया.

बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति, 24 जून को धर्मशाला में आयोजित बीसीसीआई के वार्षिक कॉन्क्लेव में कोच के नाम का ऐलान करेगी.

इंटरव्यू के लिए चुने गए 10 उम्मीदवारो में अनिल कुंबले, रवि शास्त्री और प्रवीण अमरे 3 प्रमुख भारतीय उम्मीदवार कोच के पद के लिए सबसे आगे है. सूचि मे पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कोच टॉम मुडी, स्टुअर्ट लॉ, इंग्लैंड के एंडी मॉल्स के नाम भी शामिल हैं.

वर्तमान में चयनसमिति के प्रमुख संदीप पाटिल, ने कोच पद के लिए अपनी दावेदारी पेश की थी, लेकिन उन्हें इंटरव्यू के लिए नहीं बुलाया गया हैं.

महान स्पिन गेंदबाज़ अनिल कुंबले ने भारत के लिए 132 टेस्ट और 271 वनडे मैचो में हिस्सा लिया हैं. कुंबले के नाम टेस्ट में 619 और वनडे में 337 विकेट हैं. कुंबले आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और मुंबई इंडियंस के मेंटर भी रह चुके हैं.

कुंबले वर्ष 2008 में अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं.  कुंबले की कप्तानी के अंतर्गत भारत ने टेस्ट में शानदार प्रदर्शन किया हैं. कुंबले की कप्तानी ने भारतीय टीम, टेस्ट में आईसीसी रैंकिंग में पहले पायदान पर भी रही.

कुंबले ने वर्ष 1990 में अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया. भारतीय पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने विदेशी सरजमी पर सर्वाधिक 11 टेस्ट जीते, उस दौरान कुंबले भारत के प्रमुख गेंदबाज़ थे.

2003-2004 ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान कुंबले को लेकर गांगुली चयनकर्ताओ से उलझ गए थे. चयनकर्ता नहीं चाहते थे कि कुंबले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाए, उन्हें लगता था कि कुंबले ऑस्ट्रेलिया के परिस्तिथि में उपयोगी साबित नहीं होगे, लेकिन कुंबले ने चयनकर्ताओ को गलत साबित करते हुए 3 मैचो में 24 विकेट हासिल किये. जिस दौरान कुंबले ने 2 बार 5 विकेट हॉल भी लिए. पहले 2 मैच एडिलेड और ओवल टेस्ट में कुंबले ने 5 और 6 विकेट हासिल करके भारत की जीत मे अहम भूमिका निभाई थी.

सिडनी के ड्रा टेस्ट में कुबले ने 141 रन देकर 8 ऑस्ट्रलियन विकेट झटके.

Related posts