18 साल के कोचिंग अनुभव वाले इस खिलाड़ी ने पेश की भारतीय कोच पद की दावेदारी

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

18 सालो के कोचिंग अनुभव वाले इस खिलाड़ी ने अंत समय में बढ़ा दी वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री की चिंता 

18 सालो के कोचिंग अनुभव वाले इस खिलाड़ी ने अंत समय में बढ़ा दी वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री की चिंता

भारतीय टीम के पूर्व मुख्य कोच अनिल कुंबले के कोच पद से इस्तीफा देने के बाद से भारतीय टीम के कोच बनने के लिए उम्मीदवार तेजी के साथ आवेदन कर रहे थे। पहले तो बीसीसीआई ने 31 मई आवेदन के अंतिम तारीख तय की थी, लेकिन इसके बाद 20 जुन को अनिल कुंबले के कोच पद से इस्तीफा देने के बाद बीसीसीआई ने रवि शास्त्री को आवेदन करने के लिए आवेदन प्रक्रिया को फिर से खोला और इसकी अंतिम तारीख 9 जुलाई रखी गई।

18 सालो के कोचिंग अनुभव वाले इस खिलाड़ी ने अंत समय में बढ़ा दी वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री की चिंता 1

5 आवेदकों का हुआ इंटरव्यू

भारतीय टीम के नए मुख्य कोच पद के चयन के लिए 10 जुलाई सोमवार को मुंबई में बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्य सौरव गांगुली वीवीएसलक्ष्मण और सचिन तेंदुलकर ने आवोदकों का इंटरव्यू लिया। सोमवार को कुल 10 आवेदकों में 5 आवेदको का इंटरव्यू हो गया है। मुंबई में सोमवार को इंटरव्यू के लिए वीरेन्द्र सहवाग, टॉम मूडी, लालचंद राजपूत और रिचर्ड पायबस पहुंचे, वहीं रवि शास्त्री ने स्काइप के जरिए अपना इंटरव्यू दिया। किसने क्या कहा: कोच के चयन के लिए विराट कोहली के इंतजार पर भड़के लोगो ने सोशल मिडिया पर सुनाई खरीखोटी

18 सालो के कोचिंग अनुभव वाले इस खिलाड़ी ने अंत समय में बढ़ा दी वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री की चिंता 2

ओमान के कोच राकेश शर्मा ने भी किया था आवेदन

इन कैंडीडेट के अलावा पूर्व भारतीय घरेलु खिलाड़ी राकेश शर्मा ने भी भारतीय टीम के कोच पद के लिए आवेदन किया था। वैसे रवि शास्त्री और वीरेन्द्र सहवाग भारतीय टीम के कोच की दौड़ में सबसे आगे चल रहे हैं लेकिन ओमान टीम के कोच रह चुके राकेश शर्मा ने भी कोच पद के लिए आवेदन किया है और उन्हें सहायक कोच के तौर पर देखा जा सकता है। दिल्ली की टीम के लिए रणजी टूर्मामेंट खेलने वाले राकेश शर्मा ने 18 सालों तक ओमान क्रिकेट में अपनी कोचिंग की सेवाएं दी हैं।

18 सालो के कोचिंग अनुभव वाले इस खिलाड़ी ने अंत समय में बढ़ा दी वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री की चिंता 3

1996 से ओमान में दे रहे थे कोचिंग की सेवाएं

उत्तराखंड के रहने वाले राकेश शर्मा को कोचिंग का लंबा अनुभव हैं और उन्होनें इसी के आधार पर भारतीय टीम के कोच पद के लिए अपनी दावेदारी पेश की है। राकेश शर्मा साल 2014 से ओमान से वापस भारत लौट आए और वो फिलहाल फरिदाबाद में एक कोचिंग एकेडमी चला रहे हैं। राकेश शर्मा साल 1996 से ओमान में चले गए थे और वहां पर कई टीमों को क्रिकेट कोचिंग दी। 2008 में वो ओमान की राष्ट्रीय टीम के कोच भी बने और इस टीम के साथ पांच सालों तक जुड़े रहे। राकेश शर्मा के इसी अनुभव को देखकर उन्हें भारतीय टीम के सहायक कोच की भूमिका दी जाए तो आश्चर्य नहीं होगा।सौरव गांगुली ने मीडिया के सामने किया खुलासा, कहा इनके निर्णय के बिना नहीं हो सकता कोच के नाम का ऐलान

18 सालो के कोचिंग अनुभव वाले इस खिलाड़ी ने अंत समय में बढ़ा दी वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री की चिंता 4

 

Related posts