अपने 50 वें टेस्ट की पूर्व संध्या पर अनिल कुंबले और रवि शास्त्री के बारे में ये क्या बोल गये रवि चन्द्र अश्विन | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

अपने 50 वें टेस्ट की पूर्व संध्या पर अनिल कुंबले और रवि शास्त्री के बारे में ये क्या बोल गये रवि चन्द्र अश्विन 

अपने 50 वें टेस्ट की पूर्व संध्या पर अनिल कुंबले और रवि शास्त्री के बारे में ये क्या बोल गये रवि चन्द्र अश्विन

वर्तमान भारतीय क्रिकेट का ऐसा नाम जिसके बिना भारतीय टीम अधूरी सी रहती है. यदि भारतीय बल्लेबाजी न चले तो जिसके ऊपर सबसे बड़ी जिम्मेदारी होती है टीम का बेड़ापार लगाने की वो भारतीय क्रिकेटर हैं आर आश्विन. यानी रविचंद्रन आश्विन. टेस्ट क्रिकेट में तो रविचंद्रन आश्विन का तो कोई सानी ही नही है. यदि आप उनसे सारा दिन बैटिंग करने को कहेंगे तो वो बैटिंग कर सकते हैं. अगर आप उनसे दिन भर बॉलिंग करने को कहे तो वो बॉलिंग कर सकते हैं. उनकी उम्र केवल नंबर मात्र है.अश्विन ने विज़डन इंडिया को दिए इंटरव्यू में कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वो इस मुकाम को हासिल कर पाएंगे. उन्होंने कहा कि इस दौरान मेरी प्रतिभा पर कई लोगों ने सवाल खड़े किए लेकिन मैंने हर कदम पर खुद को साबित किया.

अब मै ज्यादा समझदार हो गया हूं-

अपने 50 वें टेस्ट की पूर्व संध्या पर अनिल कुंबले और रवि शास्त्री के बारे में ये क्या बोल गये रवि चन्द्र अश्विन 1

३० वर्षीय यह भारतीय ऑफ़ स्पिनर श्रीलंका के साथ शुरू होने जा रहे तीन मैचों की सीरीज का पहला मैच रवि चंद्रन आश्विन का 50 टेस्ट मैच होगा. इस भारतीय गेंदबाज ने 25.२२ की औसत से 275 विकेट लिए हैं. तथा ३२.25 की औसत से १९०३ रन बनाए हैं. अपने 50वें टेस्ट को लेकर उत्साहित दिख रहे अश्विन ने, अपने टेस्ट सफर को लेकर कहा, पहले से लेकर 50वें मैच तक का सफर अच्छा रहा है जिसने मुझे ज्यादा परिपक्व और अनुभवी क्रिकेटर बनाया है. मुझे नही पता कि अभी आने वाले समय में मै और कितने टेस्ट खेल सकूंगा.लेकिन एक बात है कि मैंने अभी तक जितने भी मैच खेले हैं उनसे मैंने लगातार सीखा है.

सपना सच होने जा रहा-

अपने 50 वें टेस्ट की पूर्व संध्या पर अनिल कुंबले और रवि शास्त्री के बारे में ये क्या बोल गये रवि चन्द्र अश्विन 2

आश्विन ने कहा कि गले इंटरनेशनल स्टेडियम से मेरी बहुत यादे जुडी हैं. ये वही स्टेडियम है जहा मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था. हलाकि मेरे इस प्रदर्शन के बावजूद भारतीय टीम मैच हार गयी थी. आप को बनता दें. 2015 में गाले इंटरनेशनल स्टेडियम मे आश्विन ने 10 विकेट लिए थे.

कुंबले थे बेहतरीन इंसान-

अपने 50 वें टेस्ट की पूर्व संध्या पर अनिल कुंबले और रवि शास्त्री के बारे में ये क्या बोल गये रवि चन्द्र अश्विन 3

अश्विन ने अनिल कुंबले के साथ बेहतरीन रिश्ते बताए और कहा, ”बतौर स्पिनर मुझे उनके साथ रहना बेहद पसंद था. उनके पास कई सारे तरीके थे. वो मुझे अक्सर सिखाया करते थे. हर टेस्ट से पहले वो मुझे पिच के बारे में बताते थे. उनका अनुभव मेरे बहुत काम आया, उनसे मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला. हमारे बीच कई मुद्दों पर असहमति भी होती थी लेकिन वो अपनी सलाह देने में कभी शरमाते नहीं थे और यही उनकी खासियत थी. व्यकितगत तौर पर वो मेरे लिए बेहद शानदार इंसान हैं जिनसे मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला.

Related posts