धोनी के लिए मुश्किल बने जड़ेजा और अश्विन, कैसे हल होगी ये समस्या???

SAGAR MHATRE / 14 January 2016

भारतीय टीम के अॉस्ट्रेलिया दौरे की शुरूआत काफी खराब रहीं, और पहले वनडे में भारत को हार का सामना करना पडा. भारतीय टीम के इस हार के पिछे कई वजह रहीं, लेकिन सबसे बडी वजह भारतीय स्पिनरों का नाकाम रहना रहा है.

रवीचन्द्र अश्विन और रवींद्र जडेजा की जोडी पहले वनडे में बुरी तरह असफल रहीं, और यहीं कारण था, कि भारतीय टीम को हार का सामना करना पडा.

भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 309 रन बनाए थे, और अॉस्ट्रेलिया के सामने 310 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था. भारतीय तेज गेंदबाज बरिंदर सरन ने शुरूआती 2 विकेट लेकर भारत को मैच में आगें कर दिया था. लेकिन उसके बाद भारतीय स्पिनरों का नाकाम रहना भारत की हार की वजह बनी.

शुरूआती विकेट मिलने के बाद सभी को भारतीय स्पिनरों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी, लेकिन रवीचन्द्र अश्विन और रविंद्र जडेजा हमेशा की तरह, विदेशों में अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे.

 

पिछले कुछ सालों में विदेशों में भारत के अच्छा ना करने के पिछे सबसे बडी वजह भारतीय स्पिनरों का अच्छा ना करना है, जिसमे रवीचन्द्र अश्विन और रविंद्र जडेजा की जोडी सबसे आगें है.

कई दिग्गज खिलाडी भी कहते है,कि रवीचन्द्र अश्विन भारत में कितना भी अच्छा करे, लेकिन जब तक वे विदेशी जमींन पर अच्छा प्रदर्शन नहीं करेंगे, उनको सर्वश्रेष्ठ स्पिनर हम नहीं कह सकते.

अश्विन और जडेजा का प्रदर्शन भारत में हमेशा ही अच्छा रहा है, और हाल ही में हुई दक्षिण अफ्रिका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में हमने ये देखा था, कि कैसे इस जोडी ने दक्षिण अफ्रिकाई बल्लेबाजों को अपनी फिरकी पर नचाया था.

लेकिन ये जोडी भारत के बाहर भारतीय टीम के लिए परेशानी का सबब बनती जा रहीं है. और अगर ऐसा ही रहा, तो धोनी को अश्विन और जडेजा को सिर्फ भारत में ही खिलाना होगा.

Related Topics