OMG!! कोहली ने दिए विराट संकेत पुजारा के बाद अब अश्विन-जडेजा भी नहीं खेलेंगे वनडे और टी-20 क्रिकेट | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

OMG!! कोहली ने दिए विराट संकेत पुजारा के बाद अब अश्विन-जडेजा भी नहीं खेलेंगे वनडे और टी-20 क्रिकेट 

OMG!! कोहली ने दिए विराट संकेत पुजारा के बाद अब अश्विन-जडेजा भी नहीं खेलेंगे वनडे और टी-20 क्रिकेट

भारतीय टीम इन दिनों बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में ऑस्ट्रेलियाई टीम से लोहा ले रही है। चार मैचों की इस टेस्ट सीगीज में तीन टेस्ट मैच हो चुके है। पुणे में खेला गया पहला टेस्ट मैच मेहमान टीम कंगारूओं ने 333 रन से जीता वहीं बैंगलुरू में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में भारत ने मेहमान टीम को 75 रन से पस्त कर सीरीज में बराबरी कर ली। इसके बाद रांची में खेला गया तीसरा टेस्ट मैच बराबरी पर खत्म हो गया। इस सीरीज में भारत को स्पिन गेंदबाज अश्विन और जडेजा ने अपना अहम योगदान दिया है।अनोखा रिकॉर्ड: घरेलू सरजमीं पर रविन्द्र जडेजा के सामने हर बार घुटने टेक देते हैं विपक्षी टीम के कप्तान

रविचन्द्रन अश्विन और रविन्द्र जडेजा भारत के इस घरेलु सीजन में भारत के कप्तान विराट कोहली के लिए के सबसे बड़े इक्के साबित हो रहे है। जडेजा और अश्विन की जुगलबंदी को भारत को जबरदस्त फायदा हो रहा है । इन दोनों गेंदबाजो ने मिलकर इस घरेलु सीजन में कई विकेट निकाल कर दिए है। मददगार पिचो पर जडेजा और अश्विन की जोड़ी ने विरोधी टीम को सांस लेना भी दूभर कर दिया है।

विराट के दो सबसे बड़े शिकारी जडेजा और अश्विन को विरोधी टीम का शिकार करने के लिए इनका उपयोग कप्तान कोहली लगातार करते जा रहे है। घरेलू सीजन में इन दोनों ने भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लिये हैं साथ ही सबसे  ज्यादा 4000 से ज्यादा गेंदे भी फेंकी हैं, लेकिन कप्तान विराट कोहली उनका उपयोग करने से पीछे नहीं हट रहे है।अश्विन का जिक्र भी नहीं और रविन्द्र जडेजा की तारीफ़ करते हुए नहीं थके कप्तान विराट कोहली

इन दोनो दिग्गज गेंदबाजों के लगातार उपयोग करने पर कप्तान विराट कोहली ने कहा कि, “हमें ये देखना पड़ेगा कि लिमिटेड ओवर में उन्हें कितना खिलाना है। आगे जाकर हमें काफी लंबा सीजन खेलना है, और ये दोनों गेंदबाज टेस्ट में हमारे लिए काफी अहम हैं। यही एक तरीका है इन लोगों से वर्कलोड को कम करने का, क्योंकि जब मैच चल रहा होता है तो आप ये नहीं देखते हैं कि उन्होंने 3000 गेंद डाली है या 4000 गेंद।  मैदान पर हम जीतने के लिए ही जाते हैं। हमें किसी तरह तो उनका भार कम करना ही होगा।” 

Related posts