एशिया क्रिकेट काउंसिल ने किया बीसीसीआई का समर्थन | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

एशिया क्रिकेट काउंसिल ने किया बीसीसीआई का समर्थन 

एशिया क्रिकेट काउंसिल ने  किया बीसीसीआई का समर्थन

पिछले हफ्ते कोलम्बो में हुई एशियन क्रिकेट काउंसिल की बैठक में बीसीसीआई ने पाकिस्तान के खिलाफ निलंबित द्विपक्षीय संबंधो को लेकर कोई चर्चा नहीं चलाई जिसके चलते पाक क्रिकेट बोर्ड के ऊपर संकट बना हुआ है और ऐसे में अब श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड और बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने भी बीसीसीआई के साथ जाने का निर्णय लिया है.

यह भी पढ़े : Video : मिशेल मार्स कों आउट करने के लिए धोनी और उमेश यादव का पावरफुल प्लान

पाकिस्तान के साथ खेलने को लेकर भारत पहले ही मना कर चुका है इसके कारण पाक क्रिकेट बोर्ड को काफी नुकसान हुआ है. उसके आर्थिक स्थिति पर बीसीसीआई ने काफी चोट पहुँचायी है.

यह भी पढ़े : विडियो : अनुराग ठाकुर ने राहुल द्रविड़ को दिया करुण और लोकेश की शानदार बल्लेबाज़ी का श्रेय

कोलम्बो की बैठक में एशियन क्रिकेट काउंसिल के सूत्रों ने बताया और कहा.

“भारत ने पाक के खिलाफ खेलने से मना किया यह उसका निजी फैसला है उनके आन्तरिक और वित्तीय हालात के बारे में वही जानते हैं. इसके लिए हम किसी को कुछ कह नहीं सकते हैं.”

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के इंटरव्यू के दौरान अधिकारी ने बताया,

” इस साल वित्तीय हालातों को लेकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए), न्यूजीलैंड क्रिकेट और इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) सबसे आगे रहे हैं. खेलों में बदलाव लाने के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड नए नए तरीके ज्यादा इस्तेमाल करते हैं और रोमांचित करने की कोशिश करते हैं.”

यह भी पढ़े : विडियो : करूण नायर के तिहरे शतक पर कुछ ऐसा रहा करुण नायर और विराट कोहली का जश्न मनाने का तरीका

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन थिलंगा सुमथिपाला ने बताया था, कि बीसीसीआई के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने जो पत्र लिखा था, उसके चलते बीसीसीआई और आईसीसी के अधिकारियों के रिश्तों के बीच खटास आ गयी थी, जिसके बाद कोई चर्चा नहीं हुई और अब सर्वोच्च न्यायालय ने अनुराग ठाकुर से माफ़ी मांगने के लिए भी कहा था, लेकिन अभी तक उनकी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई है.

यह भी पढ़े : विडियो : देखें कैसे जोनी बेयरस्टो के रिव्यू लेने के बाद अंपायर ने व्यक्त ही अपनी निराशा

आईसीसी ने अगली सुनवाई के लिए 3 जनवरी की तारीख रखी है.

Related posts