भारत को मिला एक और अश्विन, जल्द ही अश्विन क्रिस्ट बना सकते है भारतीय टीम में अपनी जगह | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भारत को मिला एक और अश्विन, जल्द ही अश्विन क्रिस्ट बना सकते है भारतीय टीम में अपनी जगह 

भारत को मिला एक और अश्विन, जल्द ही अश्विन क्रिस्ट बना सकते है भारतीय टीम में अपनी जगह

तमिलनाडु टीम के तेज़ गेंदबाज़ अश्विन क्रिस्ट इस समय घरेलू क्रिकेट में बहुत शानदार गेंदबाज़ी कर रहे है. अभी अभी ख़त्म हुई विजय हजारे ट्रॉफी में अश्विन क्रिस्ट सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ है. अश्विन क्रिस्ट ने विजय हजारे में 20 विकेट ली, जिसमें 2 फाइव विकेट हॉल भी शामिल है. विजय हजारे ट्रॉफी के सेमीफाइनल मैच के दौरान महेंद्र सिंह धोनी के साथ हुआ कुछ ऐसा कि आपा खो बैठा यह दिग्गज

अश्विन क्रिस्ट से तमिलनाडु की तरफ़ से खेलते हुए रणजी ट्रॉफी में भी शानदार प्रदर्शन किया था. रणजी ट्रॉफी में अश्विन क्रिस्ट तमिलनाडु की तरफ़ से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज़ थे. रणजी ट्रॉफी में अश्विन क्रिस्ट ने 326 ओवर लिए थे और 35 विकेट ली थी.

अश्विन क्रिस्ट के घरेलू क्रिकेट में चल रहे इस शानदार प्रदर्शन की वजह से उन्हें पहली बार राष्ट्रीय टीम से खेलने का मौका मिला है, जिसमें वह इंडिया की अंडर- 23 की टीम से खेलते हुए नज़र आयेंगे. अश्विन क्रिस्ट को एशियन क्रिकेट काउंसिल इमर्जिंग टीम कप में खेलने के लिए अंडर -23 की टीम में चुना गया है. इस टीम के कप्तान बाबा अपराजित है. विजय हजारे ट्रॉफी- कैप्टन कूल धोनी का सामना करने के लिए बंगाल टीम ने लिया इस दिग्गज कप्तान का सहारा

अश्विन क्रिस्ट ने विजय हजारे ट्रॉफी के बारे में बात करते हुए कहा, “ईमानदारी से मैंने इस सीरीज में सफेद गेंद से गेंदबाज़ी करना सीखा है, मैंने अब तक ज्यादातर लाल गेंद से मैच खेला है. ऐसा नहीं है, कि मैंने पहले कभी सफेद गेंद से नहीं खेला, लेकिन इस सीरीज से मैंने विकेट लेना सीखा है.”

अश्विन क्रिस्ट ने आगे लाल गेंद और सफेद गेंद के बारे में बताते हुए कहा, “सफेद गेंद बहुत कम स्विंग होती है, जबकि लाल गेंद बहुत ज्यादा. सफेद गेंद से आप तभी मैच में अपनी छाप छोड़ पाते है, जब विकेट से आपको मदद मिल रही हो, अन्यथा आपको बहुत रनों का सामना करना पड़ता है.”

अश्विन क्रिस्ट ने अंडर-23 टीम को लेकर अपनी तैयारी के बारे में बताते हुए कहा, “मैं विजय हजारे में अपने प्रदर्शन से बहुत खुश हूँ और इसलिए मैं अपनी तैयारी और तकनीक में कोई बदलाव नहीं करना चाहता. मैं बस अपने इसी प्रदर्शन को इसी तरह ज्यादा से ज्यादा समय तक अच्छा रखना चाहता हूँ.” दिनेश कार्तिक के शतक ने तमिलनाडु को बनाया विजय हजारे ट्रॉफी का चैंपियन, बंगाल बनी उपविजेता 

Related posts