भारत ने किया ऑस्ट्रेलिया का सफाया मैच के साथ सीरीज पर जमाया कब्जा

आज भारत और ऑस्ट्रेलिया के बिच मेलबर्न में दूसरा टी-20 खेला गया, टॉस हारकर भारत को पहले बल्लेबाजी करना पड़ा, भारतीय पारी की शुरुआत रोहित शर्मा और शिखर धवन ने किया, दोनों ने शानदार बल्लेबाजी किया, और पहले विकेट के लिए 97 रनों की साझेदारी निभाया, लेकिन रोहित थोड़े दुर्भाग्यशाली रहे और मैक्सवेल के थ्रो पर वेड ने उन्हें रन आउट किया, रोहित ने 47 गेंदों में 5 चौके और 2 छक्के की मदद से 60 रन बनाये, उसके बाद कोहली बल्लेबाजी के लिए आये.

एक बार फिर कोहली और धवन के बीच 46 रनों की साझेदारी हुयी, लेकिन इस बार मैक्सवेल की गेंद पर लीन को कैच थमा बैठे, आउट होने से पहले धवन ने 32 गेंदों में 3 चौके और 2 छक्के की मदद से 42 रन बनाये. धवन के बाद भारतीय कप्तान धोनी बल्लेबाजी के लिए आये और तेजी से रन बनाना शुरू किया लेकिन अंतिम ओवर की 3 गेंद शेष रहते ही लम्बे शॉट लगाने के चक्कर में अपना विकेट गवां बैठे. धोनी ने 9 गेंदों में 2 चौके के मदद से 14 रन बनाये, तो विराट कोहली ने 33 गेंदों में 7 चौके और 1 छक्के की मदद से 59 रन बनाये. और ऑस्ट्रेलिया के सामने  185 रनों का लक्ष्य रखा.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत काफी शानदार रही, ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत फिंच और मार्स ने किया. दोनों के बीच पहले विकेट के लिए 94 रनों की साझेदारी हुयी, इस बीच मार्स  को  3 जीवनदान  मिला  तो  फिंच  को  एक, लेकिन  जैसे ही अश्विन ने पंड्या के हाथो मार्स को कैच करा भारत को पहली सफलता दिलाया, मैच भारत के पाले में आ गिरा, अभी ऑस्ट्रेलिया 5 रन ही जोड़ पाया था, कि लीन और 2 रन जोड़ते ही मैक्सवेल को पंड्या और युवराज ने पवेलियन भेजा, उसके बाद वाटसन बल्लेबाजी के लिए आये और फिंच के साथ ऑस्ट्रेलिया को सम्भालने की कोशिस किया, लेकिन अभी दोनों के बीच सिर्फ 20 रनों की साझेदारी हुयी थी, कि जड़ेजा ने वाटसन को c&b आउट कर पवेलियन भेजा, वाटसन ने 11 गेंदों में 2 चौके की मदद से 15 रन बनाये, अभी ऑस्ट्रेलिया इस झटके से उबर पाती उसके पहले ही भारत ने ऑस्ट्रेलिया को एक और झटका दे डाला और जड़ेजा के थ्रो पर धोनी ने बिना कोई गलती किये फिंच को रन आउट किया.

फिंच ने 48 गेंदों में 8 चौके और 2 छक्के की मदद से 74 रन बनाये, जिसके बाद आलराउंडर बल्लेबाज फाकनर बल्लेबाजी के लिए आये, लेकिन फाकनर अभी वेड के साथ 13 रन ही जोड़ पाये थे, कि धोनी के भाग्य ने उनका साथ दिया और फाकनर स्टम्पिंग हुये, फाकनर ने 7 गेंदों में 1 छक्के की मदद से 10 रन बनाये. फाकनर के बाद हेस्टिंग बल्लेबाजी के लिए आये, लेकिन वो ऑस्ट्रेलिया को जीत नहीं दिला सके. और बुमराह  ने 4 के निजी स्कोर पर उन्हें पवेलियन भेज दिया. अब ऑस्ट्रेलिया को अंतिम 3 गेंदों में 33 रनों की आवश्यकता थी, उसके बाद टाई के बल्ले से एक चौका निकला, लेकिन अगली गेंद खाली गयी, अंतिम गेंद पर बुमराह ने उन्हें बोल्ड कर दिया.

स्कोरकार्ड:

भारत:  184/3, 20 ओवर बाद ( रोहित  60, कोहली 59, टाई 4-28-1)

ऑस्ट्रेलिया: 157/8, 20 ओवर बाद (फिंच 74, मार्स 23, जड़ेजा 4-32-2)

Related Topics