भारत से मिली ब्रिस्बेन टेस्ट की हार को नहीं भुल पाएं हैं कंगारू, ओपनर बल्लेबाज ने कहा पुजारा को देख लगा कोई ऑस्ट्रेलियाई कर रहा है बल्लेबाजी 1

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने भारत के खिलाफ पिछले साल खेली गई अपनी सरजमीं पर चार मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट मैच बड़ी आसानी के साथ जीत लिया था। जिसके बाद टीम ने कभी उम्मीद नहीं कि थी कि वो टेस्ट सीरीज में हार का सामना भी करेंगे। लेकिन ब्रिस्बेन में खेले गए अंतिम टेस्ट में भारत ने गजब का प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया को मात दे डाली।

ब्रिस्बेन की हार को नहीं भूल पाए हैं ऑस्ट्रेलियाई

भारतीय क्रिकेट टीम ने ब्रिस्बेन में खेले गए अंतिम टेस्ट मैच में कमाल का प्रदर्शन करते हुए आखिरी पलों  में बाजी अपने नाम कर ना केवल गाबा टेस्ट मैच जीता बल्कि साथ ही भारत ने सीरीज को भी अपने नाम कर लिया।

भारत से मिली ब्रिस्बेन टेस्ट की हार को नहीं भुल पाएं हैं कंगारू, ओपनर बल्लेबाज ने कहा पुजारा को देख लगा कोई ऑस्ट्रेलियाई कर रहा है बल्लेबाजी 2

ऑस्ट्रेलिया की टीम गाबा में 32 साल से कभी नहीं हारी थी, लेकिन भारत ने उन्हें साहसिक प्रदर्शन करते हुए पटखनी दे दी। ऑस्ट्रेलिया को भारत से मिली उस हार को कंगारू खिलाड़ी अब तक भुला नहीं पाए हैं।

मार्कस हैरिस ने मैच को फिर से किया याद

इस हार के जख्म को एक बार फिर से ऑस्ट्रेलिया की टीम में खेलने वाले सलामी बल्लेबाज मार्कस हैरिस ने याद किया है। हैरिस ने भारतीय टीम की तारीफ तो की लेकिन साथ ही चेतेश्वर पुजारा की बल्लेबाजी को ऑस्ट्रेलिया की स्टाइल में की गई बल्लेबाजी करार दे दिया।

भारत से मिली ब्रिस्बेन टेस्ट की हार को नहीं भुल पाएं हैं कंगारू, ओपनर बल्लेबाज ने कहा पुजारा को देख लगा कोई ऑस्ट्रेलियाई कर रहा है बल्लेबाजी 3

इस मैच में ऋषभ पंत ने अंत तक बल्लेबाजी करते हुए 138 गेंदों का सामना कर 89 रन की पारी से मैच को फिनिश किया तो वहीं पुजारा ने इस मैच में एक ठोस बल्लेबाजी की जहां उन्होंने 211 गेंदों का सामना कर 56 रन बनाए और जीत का आधार तय किया।

पंत और पुजारा की जमकर की तारीफ

ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज मार्कस हैरिस ने इस मैच को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी हैं। जिसमें उन्होंने कहा कि “गाबा टेस्ट का पांचवां दिन गजब का था। हम पूरे दिन सोचते रहे कि वो लक्ष्य हासिल करने जाएंगे या नहीं। मेरे मुताबिक ऋषभ पंत ने उस दिन बेहतरीन पारी खेली लेकिन पुजारा ने जिस तरह विकेट पर साहस दिखाया वो शानदार था, वो ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज की तरह खेले। उन्होंने सबकुछ छाती पर झेला। पूरी टीम ने पुजारा के इर्द-गिर्द बल्लेबाजी की।

भारत से मिली ब्रिस्बेन टेस्ट की हार को नहीं भुल पाएं हैं कंगारू, ओपनर बल्लेबाज ने कहा पुजारा को देख लगा कोई ऑस्ट्रेलियाई कर रहा है बल्लेबाजी 4

उन्होंने आगे कहा कि “पंत की बल्लेबाजी शानदार थी। सबने कहा उनके अंदर जादू है जो अब तक वो कई बार दिखा चुके हैं। सीरीज हारना दुभार्ग्यपूर्ण था पर क्रिकेट में आपको अच्छी पारियों की तारीफ करनी चाहिए।