बॉल टेंपरिंग वीडियो को एडिट वीडियो बता रहा है ऑस्ट्रेलियाई टीम का यह खिलाड़ी

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

हैंड्सकाम्ब ने बॉल टेम्परिंग मामले में तोड़ी चुप्पी, कहा गेंद नहीं वीडियो से किया गया छेड़छाड़ 

हैंड्सकाम्ब ने बॉल टेम्परिंग मामले में तोड़ी चुप्पी, कहा गेंद नहीं वीडियो से किया गया छेड़छाड़

इस साल का बहुचर्चित काण्ड जिसने क्रिकेट जैसे जेंटलमैन गेम को शर्मसार कर दिया. दुनिया के दिग्गज खिलाड़ियों में शुमार कंगारू टीम के कप्तान स्टीवन स्मिथ और उपकप्तान डेविल वार्नर की ज़िन्दगी तबाह कर दी. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सिर एक ऐसा बदनुमा दाग लग गया. जी हाँ, हम एक बार फिर बात कर रहे हैं बॉल टेंपरिंग की. जिससे जुड़ी एक हैरान करने वाली खबर आ रही है.

दरअसल, ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज पीटर हैंड्सकोंब ने दावा किया है कि बॉल टेंपरिंग मामले में उनका कोई हाथ नहीं था. हैंड्सकोंब ने साफ किया कि उन्हें गलत तरीके से इस मामले में लाया गया और जो वीडियो दिखाई गई वो एडिट की गई थी.

हैंड्सकाम्ब ने बॉल टेम्परिंग मामले में तोड़ी चुप्पी, कहा गेंद नहीं वीडियो से किया गया छेड़छाड़ 1
आपको बता दें कि इस साल दक्षिण अफ्रीका दौरे पर गई ऑस्ट्रेलियाई टीम ने केपटाउन टेस्ट मैच के दौरान बॉल टेंपरिंग के चलते तत्कालीन ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ और उपकप्तान डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लगा दिया इनके अलावा कैमरन बेनक्राफ्ट पर भी 9 महीने का प्रतिबंध लगा दिया गया था.

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो हैंड्सकोंब ने इस मामले पर पहली बार बात करते हुए कहा कि यह वीडियो उन्हें इसलिए काफी पसंद आई क्योंकि मीडिया ने इसे बहुत बेहतरीन तरीके से एडिट किया था.

इस वीडियो में दिखाया गया है कि हैंड्सकोंब को वॉकी-टॉकी पर मैसेज दिया जा रहा है, जिसे सुनकर उन्होंने बेनक्रॉफ्ट को कुछ बताया, हैंड्सकोंब इस घटना के लगभग आधा घंटे के बाद वॉकी-टॉकी पर थे, क्योंकि बेनक्रॉफ्ट को वॉशरूम जाना था और हैंड्सकोंब को उसकी जगह फील्डिंग करने आना था.

हैंड्सकोंब कैमरन बेनक्राफ्ट के पास ही फील्डिंग कर रहे थे. हैंड्सकोंब ने बताया कि वो बस बेनक्रॉफ्ट के साथ मजाक कर रहे थे और किसी और मुद्दे पर बात कर रहे थे.

हैंड्सकाम्ब ने बॉल टेम्परिंग मामले में तोड़ी चुप्पी, कहा गेंद नहीं वीडियो से किया गया छेड़छाड़ 2
इस पूरे मामले में डैरेन लेहमन की भूमिका को लेकर भी सवाल उठ रहे थे, लेकिन उनको क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया द्वारा क्लीन चिट दे दी गई थी. हालांकि उस सीरीज के बाद लेहमन ने कोच के पद से इस्तीफा दे दिया था.

बैनक्राफ्ट, स्मिथ और वॉर्नर को चौथे टेस्ट मैच से बाहर किए जाने के बाद हैंड्सकोंब की टेस्ट टीम में वापसी हुई थी. उनका कहना है कि अब वो आगे बढ़ने के लिए तैयार है और उनका ध्यान टीम में जगह बनाने पर है.

Related posts

Leave a Reply