मिल गया धोनी का उत्तराधिकारी, संयास के बाद लेगा टीम में जगह | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

मिल गया धोनी का उत्तराधिकारी, संयास के बाद लेगा टीम में जगह 

मिल गया धोनी का उत्तराधिकारी, संयास के बाद लेगा टीम में जगह

हाल ही में भारत ने ज़िम्बाब्वे को 3-0 से करारी शिकस्त देकर सीरीज अपने नाम किया, जिसमे गेंदबाजी में यजुवेंद्र चहल और जसप्रीत बुमराह ने अहम भूमिका निभाया, इसके बाद जब बल्लेबाजी की बात आई तो भारत को तीनों मैचों में पहली बार भारत के लिए वनडे सीरीज खेल रहे के एल राहुल ने जिम्मेदारी अपने कन्धो पर उठाया और पहले अम्बाती रायडू एवं बाद में फैज फजल की मदद से भारत को जीत दिलाया.

ज़िम्बाब्वे के खिलाफ इस सीरीज में अनुभवी महेंद्र सिंह धोनी और ऑस्ट्रेलिया की मजबूत गेंदबाजी आक्रमण के सामने अपने आप को साबित कर चुके मनीष पाण्डेय को बल्लेबाजी का मौका ही नहीं मिला. राहुल ने पूरी बल्लेबाजी की जिम्मेदारी अपने ही कन्धो पर उठा लिया जिसके कारण उन्हें मैन ऑफ़ द सीरीज अवार्ड भी दिया गया, भारतीय कप्तान ने भी राहुल की बल्लेबाजी के लिए उनकी प्रसंशा किया.

अपने पहले ही वनडे में शतक लगाकर राहुल पहली बार सुर्खियों में आये, राहुल की जिम्बाब्वे के खिलाफ प्रदर्शन के बाद पहली बार उम्मीद जगी है, कि कोई भारतीय कप्तान की जगह ले वनडे में ले सकता है.

धोनी ने 30 दिसम्बर 2014 को ऑस्ट्रेलिया दौरे के बीच टेस्ट क्रिकेट से सन्यास ले लिया था, जिसके बाद बीसीसीआई ने रिद्धिमान साहा को ऑस्ट्रेलिया भेजकर विराट कोहली को टीम का कप्तान बनाया, कोहली और साहा ने अपनी जिम्मेदारी भी बखूबी निभाया.

अब जब वनडे में राहुल ने शानदार प्रदर्शन किया है, तो ये बात सामने आती है, कि राहुल धोनी की जगह ले सकते है. छक्के से डेब्यू मैच में शतक लगाने वाले केएल राहुल अपने इस खेल से चर्चा में आ गए और उनमें भविष्य की संभावनाएं तलाशी जाने लगीं. राहुल की खासियत है कि वे बैटिंग के साथ-साथ कीपिंग भी कर लेते हैं. कीपिंग की यह कला ही राहुल को धोनी का उत्तराधिकारी बनाती है, हालाँकि धोनी की तरह राहुल उतने अच्छे विकेटकीपर नहीं है, फिर भी धोनी की जगह राहुल भारतीय टीम में उनकी जगह पूरी तरह फिट बैठते है.

पिछले 12  साल  से धोनी भारतीय टीम की जिम्मेदारी अपने कन्धो पर लिए हुए है, धोनी ने उस समय के पार्ट टाइम विकेटकीपर राहुल द्रविड़ की जगह भारतीय टीम में अपनी जगह बनाया था. तब से अब तक धोनी लगातार अपने काम को बखूबी निभाते आये है और अब टेस्ट से सन्यास लेने के बाद ये कोई निश्चित नहीं है, कि लगातार आलोचनाओ का शिकार हो रहे है धोनी कब सन्यास की घोषणा कर देंगे.

साहा से बेहतर है राहुल की बल्लेबाजी:

टेस्ट टीम में धोनी की जगह भारतीय टीम का भार सम्भाले हुए साहा की बल्लेबाजी उतनी अच्छी नहीं है, वहीं राहुल टेस्ट में भी बेहतर बल्लेबाजी करते है, ऐसे में राहुल साहा की जगह भारतीय टीम में अपनी जगह पक्की कर सकते है, राहुल के टीम में आने से धवन की जगह भी खाली हो जायेगी और भारत मध्यमक्रम में साहा की जगह किसी अच्छे बल्लेबाज को मौका दे सकता है, तो राहुल वर्तमान समय के शिखर धवन की जगह मुरली विजय के साथ पारी की शुरुआत कर सकते है.

आईपीएल में रॉयल चैलेंजर बंगलौर से खेलने का मिल सकता है फायदा:

आईपीएल में राहुल भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली की कप्तानी में खेलते है और इस साल की राहुल की प्रदर्शन आईपीएल में विकेट के पीछे और सामने काफी बेहतर रही, राहुल ने कुछ शानदार खेल दिखाया विकेट के पीछे तो बल्लेबाजी से भी रन बनाये ऐसे में कोहली आईपीएल के अपने साथी खिलाड़ी को साहा की जगह भारतीय टीम में जगह डे सकते है. और ऐसे में पूरी संभावना है कि राहुल ही धोनी के उत्तराधिकारी होंगे.

 

 

Related posts